comScore

दावा: मार्क जुकरबर्ग ने अपना पसीना सुखाने के लिए रखा था स्टाफ !

दावा: मार्क जुकरबर्ग ने अपना पसीना सुखाने के लिए रखा था स्टाफ !

डिजिटल डेस्क, न्यूयॉर्क। फेसबुक को-फाउंडर मार्क जुकरबर्ग को आज की तारीख में कौन नहीं जानता? आपको यह जानकर हैरानी होगी कि दुनिया के 5वें सबसे रईस जुकरबर्ग ने अपने आर्मपिट का पसीना सुखाने के लिए एक स्टाफ। यह दावा स्टीवन लेवी नाम की एक जर्नलिस्ट द्वारा लिखी गई किताब 'द इनसाइड स्टोरी' में किया गया है। किताब में स्टाफ रखने के पीछे की वजह यह बताई गई है कि इंटरव्यू देने से पहले या किसी इवेंट में भाषण देने से पहले जुकरबर्ग नर्वस हो जाते थे, जिस कारण उन्हें पसीना आता था।

2010 में हुई थी घटना
स्टीवन लेवी की यह किताब इसी महीने में रिलीज होने वाली है। इसमें फेसबुक को-फाउंडर की पर्सनल डायरी की जानकारियां भी हैं, जो जुकरबर्ग ने साल 2006 में लिखी थीं। इस किताब में जुकरबर्ग के 2010 में हुए एक इंटरव्यू के बारे में भी बताया गया है। उस इंटरव्यू के दौरान वह काफी नर्वस हो गए थे, जिस कारण उन्हें पसीना निकलने लगा था। इस दौरान उनकी सांसे तेज होने से वह हांफने भी लगे थे।

दिया जाता था ब्लोअर
किताब में बताया गया है कि यह स्पेशल स्टाफ इवेंट या इंटरव्यू से पहले जुकरबर्ग को ब्लोअर देते थे, ताकी उन्हें पसीना न आए। इस मामले पर फेसबुक के स्पोक्सपर्सन लिज बुर्जुआ का कहना है कि मुझे इस दावे के सच होने पर संदेह है। यदि ऐसा हुआ भी होगा तो हमारी कम्युनिकेशन टीम की रिक्वेस्ट पर ही ऐसा किया जाता होगा, लेकिन इस बात से ग्रे कलर की टी-शर्ट पहनने वाला व्यक्ति खुद को जोड़ सकता है।

कौन हैं स्टीवन लेवी
'द इनसाइड स्टोरी' लिखने वाले स्टीवन लेवी अमेरिका के टेक्नोलॉजी जर्नलिस्ट है, जो इन दिनों टेक्नोलॉजी मैग्जीन वायर्ड के संपादक हैं। इनके अलावा उन्होंने फेसबुक में कई सालों तक अपना योगदान दिया है। उनकी यह किताब इसी महीने रिलीज होगी। इससे पहले भी वह कम्प्यूटर, इंटरनेट, साइबर सिक्युरिटी और अन्य विषयों पर भी किताबें लिख चुके हैं।

कमेंट करें
tMRpV