दैनिक भास्कर हिंदी: एक ऐसा रहस्यमयी आइलैंड जहां साल में सिर्फ एक दिन ही जाने की है इजाजत

October 21st, 2019

हाईलाइट

  • इस आइलैंड पर साल में महज एक दिन ही जाने की इजाजत है
  • ये द्वीप दिल के आकार का है और अपनी खूबसूरती से हर किसी को अपनी ओर खींचता है

डिजिटल डेस्क। दुनिया में कई ऐसी जगह हैं, जो रहस्यों से भरी हुई हैं। ऐसे ही कई रहस्यमयी आईलैंड भी दुनिया में मौजूद हैं। यहां कई ऐसी चीजें होती हैं, जिन्हें सुनने मात्र से हैरानी होती है देखना तो बहुत दूर की बात है। इसी कड़ी में हम आपको स्कॉटलैंड के एक रहस्यमयी आइलैंड के बारे में बताने जा रहे हैं। 

दरअसल, स्कॉटलैंड में एक ऐसा आइलैंड है जिसका नाम 'आइनहैलो द्वीप' है। आइनहैलो द्वीप ओर्कने आइलैंड से महज 500 मीटर की दूरी पर स्थित है, जहां लोग रहते हैं, लेकिन इसके बावजूद आइनहैलो द्वीप पर आना बिल्कुल भी आसान नहीं है। यहां तक कि नाव के जरिए भी यहां तक पहुंच पाना संभव नहीं है, क्योंकि यहां बहने वाली नदियों में इतने ज्यादा ज्वार भाटे आते हैं कि वो रास्ता ही रोक देते हैं। 

ये द्वीप दिल के आकार का है और अपनी खूबसूरती से हर किसी को अपनी ओर खींचता है। लेकिन इस आइलैंड पर साल में महज एक दिन ही जाने की इजाजत है। मतलब आप साल के 365 दिनों में से 364 दिन यहां नहीं जा सकते। ये द्वीप काफी छोटा है। इसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि इसे मैप में ढूंढना भी बेहद मुश्किल है। वहीं इस द्वीप को लेकर कई रहस्यमयी कहानियां भी प्रचलित हैं। पौरणिक कथाओं के अनुसार, ये द्वीप भूत-प्रेतों का है।

इनके मुताबिक, यहां बुरी आत्माओं का साया है। कोई भी व्यक्ति अगर इस द्वीप पर जाने की कोशिश करता है तो ये बुरी आत्माएं इस द्वीप को हवा में गायब कर देती हैं। कहा तो यहां तक जाता है कि, इस द्वीप पर जलपरियां भी रहती हैं, जो कि गर्मी के मौसम में ही पानी से बाहर आती हैं।

स्कॉटलैंड के हाइलैंड्स विश्वविद्यालय के प्रोफेसर डेन ली की मानें तो यहां हजारों साल पहले लोग रहते थे, लेकिन साल 1851 में यहां प्लेग की बीमारी फैलने के कारण यहां रह रहे लोगों ने इस द्वीप को छोड़ दिया और कहीं और चले गए। वहीं इस द्वीप के बारे में कोई जानकारी जैसे ये कब बना आदि जानकारी किसी के पास नहीं है। लेकिन इन बातों में कितना दम है ये कह पाना थोड़ा मुश्किल है।

 

खबरें और भी हैं...