अब गधे तलाशेगी पुलिस: सुरक्षा में तैनात पुलिस को मिली अजीब जिम्मेदारी, सब काम छोड़ गधे ढूंढेगी स्पेशल टीम

December 30th, 2021

हाईलाइट

  • गधों ने शिकायतकर्ताओं की बातों का कोई जवाब नहीं दिया।
  • अब पुलिस पिंकू, मोहर और बबलू जैसे नाम वाले गायब गधों को खोजने का काम करेगी।

डिजिटल डेस्क,जयपुर। पुलिस का काम आमतौर पर जनता को सुरक्षा देना और अपराध को कम करने का होता है। लेकिन जब पुलिस गधों को खोजने का काम करें, तब आप सोच सकते है उस राज्य की कानून व्यवस्था का क्या हाल होगा? अब पुलिस पिंकू, मोहर और बबलू जैसे नाम वाले गायब गधों को खोजने का काम करेगी। 

बनाई गयी स्पेशल टीम

यह खबर है राजस्थान की जहां पुलिस अपराधों से निपटने की वजह गधे खोजने में लगी हुई है और इसके लिए एक स्पेशल टीम भी बनाई गई है, जो गायब हुए 70 गधे की खोज कर रही है। राजस्थान के हनुमानगढ़ जिले में पुलिस की एक स्पेशल टीम का गठन किया गया है। जिले के खुइयां थाने की यह स्पेशल टीम एक एएसआई (असिस्टेंट सब इंस्पेक्टर) के नेतृत्व पर काम कर रही हैं।

स्पेशल टीम आस-पास के गांवों में देवासर गांव से गायब हुए गधों के बारे में लोगों से पूछताछ कर रही है। साथ ही पुलिसकर्मी गांवो के लोगों को अपने पशुओं की देखभाल करने की सलाह भी दे रहे हैं और इनमें भी खासकर गधों को लेकर सतर्क रहने की बात कह रहे है।

पशुपालकों ने किया थाने का घेराव   

आपको बता दे गांव के पशुपालकों ने थाने के बाहर गधों के गायब हो जाने का विरोध किया और पुलिस ने भी लगभग 15 से 17 गधों की बरामदगी कर पशुपालकों के सामने लाया। लेकिन पशुपालकों ने उन गधों को लेने से इंकार कर दिया। गुमशुदा गधों की तलाश करने की मांग को लेकर पशुपालकों ने मंगलवार शाम थाने का घेराव किया था। हालांकि जब पुलिस ने पशुपालको से 15 दिन में गायब गधों को खोजने की बात कही तब लोगों ने धरना खत्म कर दिया था।

पुलिस ने बताई मजेदार बात कहा..... 

बता दें इलाके के थाना प्रभारी विजेंद्र शर्मा ने कहा कि देवासर गांव के पशुपालकों ने शिकायत की थी कि पिछले 7-8 दिनों से उनके गधे चोरी हो रहे हैं। थाना प्रभारी ने कहा कि लोगों की शिकायत पर पुलिस ने करीब 15-17 गधों को बरामद किया था।

तब 'शिकायतकर्ताओं से अपने-अपने गधों की पहचान करने के लिए कहा गया। उन लोगों ने गधों को पिंकू, बबलू और मोहर जैसे नामों से पुकारा, लेकिन जब गधों ने उनकी बातों का जवाब नहीं दिया तो शिकायतकर्ताओं ने गधों को लेने से इनकार कर दिया। 

साथ ही थाना प्रभारी यह भी बताया कि हमने एएसआई के नेतृत्व वाली में एक स्पेशल टीम बनाई है। जिसमें 5 कॉन्स्टेबल भी होंगे। यह टीम गायब हुए गधों को खोजने का काम करेगी। उन्होंने कहा, "आसपास के गांववालों को अपने जानवरों, खासकर गधों को अंदर रखने के लिए कहा गया है,जिससे गायब हुये गधों की पहचान की जा सके।"

 


 

खबरें और भी हैं...