comScore

कंगना रनौत आई पीएम मोदी के सपोर्ट में, मजाक उड़ाने वालों की लगा दी क्लॉस

कंगना रनौत आई पीएम मोदी के सपोर्ट में, मजाक उड़ाने वालों की लगा दी क्लॉस

डिजिटल डेस्क,मुंबई। बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत अपने बेबाक बयानों को लेकर अक्सर सुर्खियों में रहती है। हर मुद्दें पर खुलकर अपने विचार रखने वाली कंगना पीएम मोदी का खूब सपोर्ट करती है। इस बार भी एक्ट्रेस ने कुछ ऐसा ही किया और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का मजाक उड़ाने वाले लोगों की सोशल मीडिया पर अच्छे से क्लॉस लगा दी। दरअसल, कंगना ने पीएम मोदी के शुक्रवार को भावुक होने वाले पल पर एक लंबी-चौड़ी पोस्ट लिखी है, जिसमें उन्होंने कहा कि, 'आंसू असली थे या नकली, आप आंसू की टेस्ट में उलझना चाहते हैं। मैं आपके आंसुओं को स्वीकार करती हूं प्रधानमंत्री....जय हिंद।' हालांकि, कंगना के इस पोस्ट पर लोगों ने प्रतिक्रिया दी है। 

देखिए, कंगना का पोस्ट

कंगना ने अपने ऑफिशियल इंस्टाग्राम अकाउंट पर एक स्टोरी शेयर करते हुए लिखा कि, 'आंसू असली थे या नकली, आप आंसू की टेस्ट में उलझना चाहते हैं या आप किसी ऐसे व्यक्ति की भावनात्मक बुद्धिमत्ता और सहनशक्ति को स्वीकार करना चाहते हैं, जो दूसरों के दुःख से हिल जाता है या यह जानने के लिए परवाह करता है कि यह दर्द असहनीय होता है। उसे साझा करना होगा, वे आंसू एक अनजान घटना के रूप में हुए या वे सचेत प्रयास थे। यह कैसे मायने रखता है? क्या यह मायने रखता है? कुछ लोग हर समाधान के लिए समस्या ढूंढते हैं। मैं आपके आंसुओं को स्वीकार करती हूं प्रधानमंत्री....जय हिंद।' "प्रिय भारतीय हर आशीर्वाद को समस्या मत बनाइए। अपना एटिट्यूड और विचार खुद तय करें।"

पीएम मोदी की भावुकता का मजाक उड़ाने वालों पर भड़कीं कंगना रनौत, लंबे नोट के जरिए दी ये नसीहत

बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हाल ही में अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी में फ्रंटलाइन डॉक्टर्स और पैरामेडिकल स्टाफ के साथ कोरोना पर एक छोटी सी चर्चा की थी, जिस पर बात करते हुए पीएम काफी भावुक हो गए थे और उन्होंने कोरोना के कारण जान गंवाने वाले लोगों को श्रद्धांजलि दी लेकिन जिस वक्त प्रधानमंत्री चिकित्सकों को श्रद्धांजलि दे रहे थे। उस वक्त पीएम के आंसू छलक उठे और उन्होंने कहा कि चिकित्सकों का योगदान सराहनीय है। फिर क्या था, पीएम का ये वीडियो इंटरनेट पर तेजी से वायरल हो गया। सोशल मीडिया पर मीम्स की बाढ़ आ गई। तो, आलोचना करने वालों की भी कमी नहीं रही। इसके पहले भी पीएम मोदी का समर्थन करते हुए कंगना रनौत ने उनको फादर ऑफ नेशन कहा था। कंगना रनौत की इस बात पर रिटायर्ड आईएएस ऑफिसर सूर्य प्रताप सिंह ने आपत्ति भी जताई थी।

बता दें कि पीएम मोदी ने अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी में फ्रंटलाइन वर्कर्स को संबोधित करते हुए कहा “मैं काशी का एक सेवक होने के नाते हर एक काशीवासी का हृदय से धन्यवाद देता हूं। विशेष रूप से हमारे डॉक्टर्स, नर्सेज, वार्ड बॉयज और एम्बुलेंस ड्राइवर्स ने जो काम किया है, वो वाकई सराहनीय है। काशी के डॉक्टर्स ने कल्याण की भावना से कोरोना काल में काम किया। इस वायरस ने हमारे कई अपनों को हमसे छीना है। मैं उन सभी लोगों को अपनी श्रद्धांजलि देता हूं, उनके परिजनों के प्रति सांत्वना व्यक्त करता हूं।” प्रधानमंत्री के इस संबोधन के बाद विपक्ष ने भी केंद्र पर जमकर निशाना साधा था।


 

कमेंट करें
ewh7g
NEXT STORY

Tokyo Olympics 2020:  इस बार दिखेगा भारत के 120 खिलाड़ियों का दम, 18 खेलों में करेंगे शिरकत

Tokyo Olympics 2020:  इस बार दिखेगा भारत के 120 खिलाड़ियों का दम, 18 खेलों में करेंगे शिरकत

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। टोक्यो ओलंपिक का काउंटडाउन शुरु हो चुका हैं। 23 जुलाई से शुरु होने जा रहे एथलेटिक्स त्यौहार में भारतीय दल इस बार 120 खिलाड़ियों के साथ 18 खेलों में दावेदारी पेश करेगा। बता दें 81 खिलाड़ियों के लिए यह पहला ओलंपिक होगा। 120 सदस्यों के इस दल में मात्र दो ही खिलाड़ी ओलंपिक पदक विजेता हैं। पी.वी सिंधू ने 2016 रियो ओलंपिक में सिल्वर तो वहीं मैराकॉम ने 2012 लंदन ओलंपिक में ब्रॉन्ज मेडल अपने नाम किया था।

भारत पहली बार फेंनसिग में चुनौता पेश करेगा। चेन्नई की भवानी देवी पदक की दावेदारी पेश करेंगी। भारत 20 साल के बाद घुड़सवारी में वापसी कर रहा है, बेंगलुरु के फवाद मिर्जा तीसरे ऐसे घुड़सवार हैं जो ओलंपिक में भारत का प्रतिनिधित्व करेंगे। 

olympic

युवा कंधो पर दारोमदार

टोक्यो ओलंपिक में भाग लेने जा रहे भारतीय दल में अधिकतर खिलाड़ी युवा हैं। 120 खिलाड़ियों में से 103 खिलाड़ी 30 से भी कम आयु के हैं। मात्र 17 खिलाड़ी ही 30 से ज्यादा उम्र के होंगे। 

भारतीय दल में 18-25 के बीच 55, 26-30 के बीच 48, 31-35 के बीच 10 तो वहीं 35+ उम्र के 7 खिलाड़ी हिस्सा ले रहे हैं। इस लिस्ट में सबसे युवा 18 साल के दिव्यांश सिंह पंवार हैं, जो शूटिंग में चुनौता पेश करेंगे, तो वहीं सबसे उम्रदराज 45 साल के मेराज अहमद खान होंगे जो शूटिंग में ही पदक के लिए भी दावेदार हैं।