comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

एनसीबी ने सुशांत से जुड़े ड्रग मामले में दीपिका, सारा, श्रद्धा से की पूछताछ (लीड-3)

September 26th, 2020 22:01 IST
 एनसीबी ने सुशांत से जुड़े ड्रग मामले में दीपिका, सारा, श्रद्धा से की पूछताछ (लीड-3)

हाईलाइट

  • एनसीबी ने सुशांत से जुड़े ड्रग मामले में दीपिका, सारा, श्रद्धा से की पूछताछ (लीड-3)

मुंबई, 26 सितंबर (आईएएनएस) नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) ने शनिवार को बॉलीवुड अभिनेत्री दीपिका पादुकोण, सारा अली खान, श्रद्धा कपूर से अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत से जुड़े ड्रग्स मामले में कई घंटों तक पूछताछ की।

तीनों अभिनेत्रियों के अलावा एनसीबी ने दीपिका की पूर्व मैनेजर करिश्मा प्रकाश से भी पूछताछ की। एनसीबी के सूत्रों के अनुसार, अक्टूबर 2017 की एक कथित चैट में दीपिका और करिश्मा ड्रग्स की कथित खरीद पर अस्पष्ट थीं।

कोलाबा क्षेत्र में एनसीबी के गेस्टहाउस में सुबह 10 बजे से पहले पहुंची दीपिका दोपहर करीब 3.30 बजे रवाना हुईं।

यहां तक कि दूसरी बार शनिवार को सुबह 10.45 बजे पूछताछ के लिए उपस्थित हुईं करिश्मा भी लगभग 3.30 बजे दोपहर में रवाना हुईं।

एनसीबी को दीपिका और करिश्मा के चैट से अक्टूबर 2017 का विवरण मिला है, जिसमें दोनों ड्रग पर चर्चा कर रहे थे और क्लब कोको में मिलने की योजना बनाई थी।

दीपिका और करिश्मा को एनसीबी ने ड्रग से जुड़े मामले में नाम आने के बाद समन जारी किया था।

इसी बीच सुबह 11.45 बजे के आसपास बॉलार्ड पियर क्षेत्र में एनसीबी कार्यालय पहुंची श्रद्धा शाम 6 बजे निकलीं।

वहीं एनसीबी के कार्यालय दोपहर 1 बजे के आसपास पहुंची सारा से साढ़े चार घंटे तक पूछताछ की गई।

सुशांत के पूर्व मैनेजर जय साहा के साथ सीबीडी तेल मांगने के कारण श्रद्धा का नाम सामने आया। इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि वह सुशांत के साथ पवना रिसोर्ट भी गई थीं।

वहीं रिया चक्रवर्ती ने एक टेलीविजन साक्षात्कार के दौरान दावा किया कि दिवंगत अभिनेता ने केदारनाथ की शूटिंग के दौरान मारिजुआना का धूम्रपान करने की लत लगाई थी। इस दावे से सारा अली खान के लिए मुसीबतें बढ़ गईं, क्योंकि फिल्म में सारा ने सुशांत के साथ अभिनय किया था।

दीपिका को बुधवार को उस समय तलब किया गया, जब वह एक फिल्म की शूटिंग के लिए गोवा में थीं। वह गुरुवार को मुंबई पहुंची और शुक्रवार को एजेंसी के सामने पेश होने वाली थीं। लेकिन दीपिका की कानूनी टीम के अनुरोध पर एनसीबी ने पूछताछ शनिवार के लिए स्थगित कर दिया।

एनसीबी ने शुक्रवार को अभिनेत्री रकुलप्रीत सिंह और करिश्मा का बयान दर्ज किया था।

एनसीबी द्वारा तीनों अभिनेत्रियों से पूछताछ पर टिप्पणी करते हुए एक प्रसिद्ध आपराधिक वकील जयकुश हून ने कहा कि एनसीबी के मुख्य केंद्र बिंदु अभिनेत्रियों के साथ पूछताछ छह पहलुओं के आसपास घूमती है, खरीद, भुगतान, भागीदारी, अपराध में भागीदार, उपभोग और खपत का अंतिम स्थान।

हून ने कहा, यदि वे चल रही जांच में एजेंसी को सहयोग प्रदान करती हैं, तो एनसीबी उन पर दंडनीय अपराध के लिए एनडीपीएस अधिनियम, 1985 की धारा -8 (सी), 20 (बी) (बी), 22 (ए), 27 (बी) के तहत मामला दर्ज करेगी। यदि वे जांच में सहयोग नहीं करती हैं तो उन पर धारा- 8 (सी), 20 (बी) (सी), 22 (बी), 22 (सी), 27 (ए) और 28,29,30 एक ही अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया जाएगा।

एनसीबी ने प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) द्वारा सुशांत की मौत मामले में मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज किए जाने के बाद मामला दर्ज किया और उसके बाद रिया, उनके भाई शोविक और सुशांत के घर के मैनेजर सैमुएल मिरांडा के फोन पर ड्रग्स की कथित चैट पाई गई।

ईडी ने तब ड्रग के मामले की जांच के लिए एनसीबी को पत्र लिखा था।

मामला दर्ज करने के बाद एनसीबी ने कई लोगों से पूछताछ की और रिया, शोविक, मिरांडा, सुशांत के निजी कर्मचारी दीपेश सावंत को गिरफ्तार करने के साथ 16 अन्य लोगों से पूछताछ की।

एनसीबी ने सुशांत की पूर्व मैनेजर श्रुति मोदी, धर्मा प्रोडक्शंस के पूर्व कार्यकारी निर्माता क्षितिज प्रसाद रवि, क्वान टैलेंट मैनेजमेंट एजेंसी के सीईओ ध्रुव चिटगोपेकर, प्रख्यात निर्माता मधु मंतेना वर्मा और कई अन्य लोगों से भी पूछताछ की है।

एमएनएस/एएनएम

कमेंट करें
ucSJ1
कमेंट पढ़े
samir sardana September 27th, 2020 02:38 IST

It is time to legalise Drugs ! NCB can do nothing ! The architecture is rotten – from the Chors of BSF and the Coast Guard to the Mumbai Police ANC ! See – they are PANDOOS ! Fit o do LEFT RIGHT LEFT RIGHT ! dindooohindoo What is ANC – AUTHORISED NARCOTICS CONSUMPTION ? THE DRUGS ARE MANUFACTURED IN MAHARASHTRA ! AND THEY ARE ALSO EXPORTED FROM MPT. It is the ANC which has allowed the drugs network to spread in Maharashtra and Goa. What is wrong with taking Drugs ? Human life is a function of sense perception – which is linked to experiences of life. Ms Deepiks’s experience is NOT the same as limpet limpdicks and the chammiyas of the media.Work hours, Stress and Performance – leads to chemical imbalances in the body and synaptic imbalances in the cranium. A 2 bit salaried clown or even a bania limpdick,has no such standards of performance or imbalances. There is no Medical treatment or the same.Any treatment is time consuming . An actor needs instant solutions -as the actor has to perform always.Every second is money,as the shelf life is limited What should thunder legs Deepika do ? Hang ? Have to take drugs – one should just have the discipline, to give it up later in life Besides Dayanand Saraswati – All the Greek Philosophers took drugs ! It UNLOCKS the mind and opens the mind to an ALTERNATIVE REALITY – which is the FASTEST AND SUREST way to EVOLUTION OF THE BRAIN AND THE MIND, Same applies to Picasso and company. The greatest Warrior King of India – Ranjit Singh was n Opium – most of the time..That was the time when he was at his intellectual and sexual epitome of perfection As Hume had said – an Indian Limpdick who has only seen White Elephant – would not believe that there are Black or Grey Elephants. So Deepika in on the way to be a Philosopher ! Look at the 3 Musketeering Bombshells (Deepika,Sara and Sharaddha) ! Do they look like they are suffering from any stress or drug side effects ? It is the Indian DNA to destroy success and especially successful and beautiful women – who are an affront to the impotent limpdick Indian Males and a shock to the Indian woman who could lead the lives of the 3 Musketeering Bombshells

NEXT STORY

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

डिजिटल डेस्क, जबलपुर। किसी के लिए भी प्रॉपर्टी खरीदना जीवन के महत्वपूर्ण कामों में से एक होता है। आप सारी जमा पूंजी और कर्ज लेकर अपने सपनों के घर को खरीदते हैं। इसलिए यह जरूरी है कि इसमें इतनी ही सावधानी बरती जाय जिससे कि आपकी मेहनत की कमाई को कोई चट ना कर सके। प्रॉपर्टी की कोई भी डील करने से पहले पूरा रिसर्च वर्क होना चाहिए। हर कागजात को सावधानी से चेक करने के बाद ही डील पर आगे बढ़ना चाहिए। हालांकि कई बार हमें मालूम नहीं होता कि सही और सटीक जानकारी कहा से मिलेगी। इसमें bhaskarproperty.com आपकी मदद कर सकता  है। 

जानिए भास्कर प्रॉपर्टी के बारे में:
भास्कर प्रॉपर्टी ऑनलाइन रियल एस्टेट स्पेस में तेजी से आगे बढ़ने वाली कंपनी हैं, जो आपके सपनों के घर की तलाश को आसान बनाती है। एक बेहतर अनुभव देने और आपको फर्जी लिस्टिंग और अंतहीन साइट विजिट से मुक्त कराने के मकसद से ही इस प्लेटफॉर्म को डेवलप किया गया है। हमारी बेहतरीन टीम की रिसर्च और मेहनत से हमने कई सारे प्रॉपर्टी से जुड़े रिकॉर्ड को इकट्ठा किया है। आपकी सुविधाओं को ध्यान में रखकर बनाए गए इस प्लेटफॉर्म से आपके समय की भी बचत होगी। यहां आपको सभी रेंज की प्रॉपर्टी लिस्टिंग मिलेगी, खास तौर पर जबलपुर की प्रॉपर्टीज से जुड़ी लिस्टिंग्स। ऐसे में अगर आप जबलपुर में प्रॉपर्टी खरीदने का प्लान बना रहे हैं और सही और सटीक जानकारी चाहते हैं तो भास्कर प्रॉपर्टी की वेबसाइट पर विजिट कर सकते हैं।

ध्यान रखें की प्रॉपर्टी RERA अप्रूव्ड हो 
कोई भी प्रॉपर्टी खरीदने से पहले इस बात का ध्यान रखे कि वो भारतीय रियल एस्टेट इंडस्ट्री के रेगुलेटर RERA से अप्रूव्ड हो। रियल एस्टेट रेगुलेशन एंड डेवेलपमेंट एक्ट, 2016 (RERA) को भारतीय संसद ने पास किया था। RERA का मकसद प्रॉपर्टी खरीदारों के हितों की रक्षा करना और रियल एस्टेट सेक्टर में निवेश को बढ़ावा देना है। राज्य सभा ने RERA को 10 मार्च और लोकसभा ने 15 मार्च, 2016 को किया था। 1 मई, 2016 को यह लागू हो गया। 92 में से 59 सेक्शंस 1 मई, 2016 और बाकी 1 मई, 2017 को अस्तित्व में आए। 6 महीने के भीतर केंद्र व राज्य सरकारों को अपने नियमों को केंद्रीय कानून के तहत नोटिफाई करना था।