comScore

सुशांत आत्महत्या केस: FIR के बाद पहली बार सामने आईं रिया, कहा- मुझे न्याय व्यवस्था पर भरोसा, सत्यमेव जयते


डिजिटल डेस्क, मुबई। बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की आत्महत्या के मामले में बिहार पुलिस द्वारा केस दर्ज करने के बाद रिया चक्रवर्ती ने पहली बार औपचारिक बयान दिया है। उन्होंने ट्विटर पर एक वीडियो शेयर कर कहा कि न्याय व्यवस्था पर उन्हें विश्वास है। मामला कोर्ट में है इसलिए वह चुप है। सच के सामने आने का पूरा भरोसा है। 

रिया चक्रवर्ती ने सोशल मीडिया पर अपना छोटा सा वीडियो पोस्ट करते हुए कहा कि मामला कोर्ट में है इसलिए मैं चुप हूं। मुझे न्याय व्यवस्था पर पूरा भरोसा है। सच के सामने आने का भरोसा है। सत्यमेव जयते। रिया ने आगे कहा कि हालांकि मीडिया में मेरे बारे में काफी कुछ कहा जा रहा है, लेकिन मेरे वकीलों के कहने मुताबिक मैं उस पर कोई टिप्पणी नहीं करूंगी। सच्चाई सामने आएगी। रिया के इस वीडियो पर सोशल मीडिया यूजर्स रिएक्ट कर रहे हैं और कुछ उनका समर्थन कर रहे हैं तो वहीं कुछ इसे ढोंग बता रहे हैं।

बता दें कि रिया ने पूरे प्रकरण पर पहली बार अपनी चुप्पी तोड़ी है। सोशल मीडिया पर रिया का ये वीडियो तेजी से वयारल हो गया है। एक्टर की मौत के बाद रिया का ये पहला वीडियो बताया जा रहा है। जब से सुशांत के पिता ने रिया पर कई गंभीर आरोप लगा FIR दर्ज करवाई है, एक्ट्रेस की मुसीबत काफी बढ़ गई है। मालूम हो कि सुशांत सिंह राजपूत बीते 14 जून को उनके मुंबई स्थित घर में मृत पाए गए थे। शुरुआती जांच में उनकी मौत की वजह डिप्रेशन को बताया जा रहा था। मुंबई पुलिस इस मामले की जांच कर रही है। 

सुशांत सिंह की मौत के मामले में मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज
बता दें कि प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने शुक्रवार को एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज कर लिया है। ED ने गुरुवार को बिहार पुलिस को पत्र लिखकर सुशांत की मौत के मामले में पटना में दर्ज FIR की कॉपी मांगी थी। इसी FIR के आधार पर ये केस दर्ज किया गया है। ED सुशांत के धन और उनके बैंक खातों के कथित दुरुपयोग के आरोपों की जांच करना चाहती है। दरअसल, सुशांत के पिता ने आरोप लगाया है कि उनके पुत्र के बैंक खाते से कम से कम 15 करोड़ रुपये अज्ञात खाते में ट्रांसफर किए गए हैं।

पूर्व सीएम फडणवीस ने भी मनी लॉन्ड्रिंग के जांच की मांग की 
इससे पहले महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस ने ट्वीट करते हुए कहा था, 'सुशांत सिंह राजपूत के मामले को सीबीआई को सौंपने के बारे में एक विशाल जन भावना है, लेकिन राज्य सरकार की अनिच्छा को देखते हुए, कम से कम ईडी एक ईसीआईआर दर्ज कर सकता है, क्योंकि गलतफहमी और मनी लॉन्ड्रिंग का एंगल सामने आया है।

पटना थाने में रिया समेत 6 के खिलाफ FIR
हालांकि सुशांत के पिता केके सिंह मुंबई पुलिस की जांच से संतुष्ट नहीं थे। इसी वजह से उन्होंने पटना के राजीव नगर थाने में 25 जुलाई को इस मामले की जांच के लिए सुशांत की गर्लफ्रेंड रही रिया चक्रवर्ती समेत 6 के खिलाफ FIR दर्ज कराई थी। इसके बाद रिया ने 29 जुलाई को सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर करके पटना में दायर किए गए मुकदमे को मुंबई ट्रांसफर किए जाने का अनुरोध किया। रिया का कहना है कि बिहार में मामले की निष्पक्ष जांच नहीं हो सकेगी इसलिए केस को मुंबई ट्रांसफर किया जाए। इसके बाद सुशांत के पिता और बिहार सरकार ने गुरुवार को सुप्रीम कोर्ट में कैविएट दाखिल की।

महाराष्ट्र राज्यपाल से मुलाकात के बाद अभिनेता शेखर सुमन ने कहा कि हमारी राज्यपाल जी से मुलाकात हुई। हमने उनसे कहा कि 130 करोड़ लोगों की मांग है कि सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में CBI जांच की जाए। राज्यपाल जी ने कहा मैं आपकी बात से सहमत हूं, अगर जनता की यह मांग है तो जांच होनी चाहिए।

कमेंट करें
yI9mW