दैनिक भास्कर हिंदी: महाराष्ट्र में अब भी 10 फीसदी लोग नहीं करते शौचालय का इस्तेमाल, अशोक सर्राफ बने एम्बेसडर 

August 20th, 2019

डिजिटल डेस्क, मुंबई। महाराष्ट्र में अब भी 5 से 10 प्रतिशत लोग खुले में शौच के लिए जाते हैं। प्रदेश के जलापूर्ति व स्वच्छता मंत्री बबनराव लोणीकर ने खुद यह बात स्वीकार की है। हालांकि राज्य सरकार 2018 में राज्य को ‘खुले में शौच से मुक्त’ घोषित कर चुकी है। इस बीच लोणीकर ने प्रदेश के ग्रामीण इलाकों में लोगों को शौचालय के इस्तेमाल के लिए प्रेरित करने के लिए मराठी के प्रसिद्ध अभिनेता अशोक सराफ को राज्य का ब्रांड एम्बेसडर बनाने की घोषणा की। सराफ ने शौचालय के इस्तेमाल को लेकर अपील करने वाला वीडियो तैयार किया है। 

मंगलवार को मंत्रालय में लोणीकर ने सराफ की मौजूदगी में इस वीडियो को लांच किया। पत्रकारों से बातचीत में लोणीकर ने कहा कि ग्रामीण इलाकों में शौच के लिए खुले में जाना एक कल्चर है। इस कल्चर को बदलने के लिए सराफ की मदद लेने का फैसला किया है। लोणीकर ने कहा कि राज्य भर में आयोजित होने वाले स्वच्छता के कार्यक्रम में सराफ को बुलाया जाएगा। सराफ लोगों को स्वच्छता का महत्व समझाएंगे। लोणीकर ने कहा कि सरकार हर संभव प्रयास लगातार कर रही है लेकिन सिनेमा के कलाकारों का लोगों में अलग आकर्षण होता है। ये कलाकार लाखों लोगों के चहेते होते हैं। इसके मद्देनजर सराफ ने सरकार को मदद करने का आश्वासन दिया है। लोणीकर ने कहा कि सराफ के वीडियो को सोशल मीडिया, टीवी के अलावा राज्य भर के गांवों में दिखाने की व्यवस्था की गई है। 

वहीं सराफ ने कहा कि कुछ लोगों को सबसे पहले अपने आदत में बदलाव करने की जरूरत है। कुछ लोगों को खुले में शौच के बिना चैन नहीं आता है क्योंकि लोगों की आदत होती है। इसलिए लोगों को शौचालय तक आने के लिए अपील करने को लेकर वीडियो तैयार किया है। वहीं अभिनेत्री निर्मिती सावंत ने कहा कि हमें खुशी है कि सरकार इस तरीके से अभियान चला रहा है। हम लोगों की आदत तुरंत नहीं बदल सकते हैं, हम केवल जनजागृति कर सकते हैं।