अकोला : अलार्म पुलिंग करने वाले 1,481 गिरफ्तार

July 22nd, 2022

डिजिटल डेस्क, अकोला. रेल में यात्रा करने के दौरान यात्रियों के साथ अनुचित घटना घटने पर आकस्मिक स्थिति में अलार्म लगाए गए हैं। लेकिन इस अलार्म का अनुचित उपयोग करने वालों के खिलाफ रेल विभाग ने कार्रवाई की। रेल विभाग ने जून माह तक जबरन चैन पुलिंग करने वालों के खिलाफ कार्रवाई करते हुए उनसे 8 लाख 95 हजार 645 का जुर्माना वसूल किया। रेल विभाग यात्रियों की सुरक्षा को लेकर हमेशा ही सजग रहता है। यात्रा के दौरान यात्रियों की सुरक्षा को लेकर आरपीएफ द्वारा कर्मचारी तैनात किया जाता है ताकि यात्री सुरक्षित यात्रा कर अपने गंतव्य तक पहुंच पाए। वहीं रेल विभाग ने ट्रेना में अलार्म लगाया है। ताकि यात्रियों को आवश्यकता पड़ने पर वे इस अलार्म का इस्तेमाल कर अपने समस्या को हल कर सके। लेकिन यात्रा के दौरान यात्री जानबूझकर चेन अलार्म खींचकर ट्रेन को रोक देते हैं, जिससे रेल विभाग को आर्थिक नुकसान के साथ ट्रेन के परिचालन पर भी असर पड़ता है। ऐसे यात्रियों को दंडित करने के लिए रेल विभाग की ओर से विशेष मुहिम चलाई जाती है। इस मुहिम के दौरान बगैर किसी ठोस कारण अलार्म चैन पुलिंग करने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाती है। भुसावल मंडल द्वारा जनवरी 2022 से जुलाई 2022 तक चलाई गई मुहिम के दौरान बिना उचित कारण के चेन पुलिंग करने वाले 1481 यात्रियों को पकड़ा गया। रेल विभाग ने उनके खिलाफ धारा 141 के तहत कार्रवाई करते हुए 8 लाख 95 हजार 645 रूपए का जुर्माना वसूल किया। रेल विभाग ने नागरिकों से अपील कि है कि यात्रा के दौरान बगैर किसी ठोस कारण के चेन पुलिंग न करें यदि कोई ऐसा करता हुआ पकड़ा जाता है तो सम्बन्धित के खिलाफ कार्रवाई की गई। इस कार्रवाई में सम्बन्धित को एक हजार रूपए जुर्माने के अलावा 1 साल की सजा का भी प्रावधान है।