दैनिक भास्कर हिंदी: सतना की सेंट्रल जेल में शिफ्ट किए गए इंदौर के 2 पत्थरबाज 

April 10th, 2020

डिजिटल डेस्क सतना। कोरोना वायरस के संक्रमण की डोर टू डोर जांच के दौरान इंदौर की टाट पट्टी बाखल में मेडिकल और पुलिस की साझा टीम पर पथराव करने के 19 में से 2 आरोपियों शोएब उर्फ शोबी पिता मुख्त्यार खान (36)  और  मजीद उर्फ मज्जू पिता अब्दुल गफूर (45 ) को केंद्रीय जेल प्रशासन ने गुरुवार की भोर यहां  के सेंट्रल जेल में शिफ्ट कर दिया। जेल अधीक्षक एनपी सिंह ने इन्हें इंदौर से यहां शिफ्ट करने की पुष्टि की है। जेल अधीक्षक ने बताया कि राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के दोनों आरोपियों को अलग से बनाए गए आइसोलेशन वार्ड में रखा गया है। स्वास्थ्य सुरक्षा के सख्त प्रबंध किए गए हैं। 
हद है, पहली बार परीक्षण 
इसी बीच सूत्रों के मुताबिक इंदौर पुलिस की एक पार्टी रासुका के आरोपी दोनों पत्थरबाजों को लेकर सुबह साढ़े 4 बजे सेंट्रल जेल पहुंची। सुबह 10 बजे दोनों को स्क्रीनिंग के लिए जिला अस्पताल ले जाया गया। बाद में रात रात 8 बजे स्वास्थ्य विभाग की एक टीम केंद्रीय कारागार पहुंची। दोनों के नाक और गले के थ्रोड स्वाब के सेंपल लिए गए। नमूने जांच के लिए आईसीएमआर लैब भेजे गए हैं। पीपीई किट से लैस इस मेडिकल टीम में  टीम डिस्ट्रिक्ट रैपिड रिस्पांस टीम के इंचार्ज डा.एसपी तिवारी, डिस्ट्रिक्ट सर्विलांस आफीसर डा.सीएम तिवारी और लैब टेक्नीशियन डीबी त्रिपाठी शामिल थे।  सूत्रों के अनुसार दोनों आरोपियों को इंदौर में गिरफ्तार करने के बाद सीधे केंद्रीय कारागार भेज दिया गया था। माना जा रहा है कि रासुका के आरोपी दोनों पत्थरबाजों की  पहली बार यहीं पर स्क्रीनिंग की गई है। 
 जांच के लिए जबलपुर भेजे गए 7 नमूने 
उधर, जिला अस्पताल के सिविल सर्जन डा. प्रमोद पाठक ने बताया कि गुरुवार को इंदौर से यहां सेंट्रल जेल में शिफ्ट किए गए रासुका के दो आरोपियों के अलावा कुल 7 सेंपल जांच के लिए भेजे गए हैं। जबकि 3 ऐसे संदिग्ध हैं जिन्होंने 2 मार्च को हैदराबाद से जबलपुर के बीच हवाई यात्रा की थी। जिस विमान में ये तीनों सवार थे, उसी में एक ऐसा यात्री भी शामिल था,जो कोरोना वायरस से संक्रमित था। उन्होंने बताया कि इससे पहले भेजे गए 3 में से 2 नमूनों में जहां कोरोना वायरस का संक्रमण नहीं पाया गया है, वहीं एक अन्य संदिग्ध का सेंपल 7 अप्रैल से फिलहाल जलबपुर स्थित आईसीएमआर लैब में प्रॉसेस में है। 
 कंट्रोल वार्ड में भर्ती हैं 4 संदिग्ध 
जिला अस्पताल प्रबंधन ने बताया कि जिला अस्पताल के  इन्फेशियस डिसीज कंट्रोल वार्ड में मौजूदा समय में 4 संदिग्धों को भर्ती किया गया है, जिनमें से 2महिला और 2 पुरुष हैं।