दैनिक भास्कर हिंदी: इन सात सीटों पर मतदान के दौरान खराब हुए 200 ईवीएम, बदले गए उपकरण 

April 11th, 2019

डिजिटल डेस्क, मुंबई। राज्य के सात लोकसभा क्षेत्रों में गुरुवार को हुए मतदान में करीब 200 इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) खराब हो गए। ईवीएम में खराबी को लेकर प्रदेश काग्रेस की तरफ से भी चुनाव आयोग से शिकायत की गई।
हालांकि चुनाव आयोग ने खराब ईवीएम को समय रहते बदल दिया। 

गोंदिया जिले के भंडारा-गोंडिया निर्वाचन क्षेत्र में वीवीपीएटी मशीनों के काम न करने संबंधी खबरों के बाद निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि गड़बड़ी वाली मशीनों को बदला जा रहा है और मतदान बिना किसी देरी के सुगमता से हो रहा है।महाराष्ट्र में बूथ संख्या 127 (गढ़चिरौली-चिमूर निर्वाचन क्षेत्र) और बूथ संख्या 147 (यवतमाल-वाशिम) से ईवीएम में गड़बड़ी की शिकायतें मिली हैं। भंडारा के जिलाधिकारी शांतनु गोयल ने बताया कि भंडारा-गोंडिया निर्वाचन क्षेत्र में मतदान बिना किसी बाधा के सुगमतापूर्वक चल रहा है। उन्होंने कहा कि गड़बड़ी वाली मशीन, अगर कोई हैं तो उन्हें 15 मिनट में बदल दिया गया।

नागपुर में ब्लू डायमंड स्कूल मतदान केंद्र का ईवीएम मशीन कुछ समय के लिए खराब हुआ था। यवतमाल निर्वाचन क्षेत्र में एक ईवीएम मशीन के काम नहीं करने पर भाजपा-शिवसेना गठबंधन की उम्मीदवार भावना गवली ने निर्वाचन आयोग से इस मतदान केंद्र पर मतदान का समय बढ़ाने का अनुरोध किया। चुनाव आयोग के एक अधिकारी ने बताया कि हमने 20 फीसदी ईवीएम और 30 फीसदी वीवीपैट रिजर्व रखे थे। खराबी की शिकायत मिलने के बाद तुरंत ईवीएम व वीवीपैट बदले गए।  

कांग्रेस ने की 39 शिकायतें 

प्रदेश कांग्रेस ने महाराष्ट्र के छह लोकसभा क्षेत्रों में ईवीएम में गड़बड़ी से संबंधित 39 शिकायतें निर्वाचन आयोग के समक्ष दर्ज कराई हैं। प्रदेश कांग्रेस ने एक बयान में कहा कि उसने नागपुर में कुछ बूथों पर ईवीएम में गड़बड़ी संबंधी 12 शिकायतें ईमेल के जरिये चुनाव आयोग से की हैं। इसके अलावा चंद्रपुर में आठ, वर्धा में छह और रामटेक में पांच ईवीएम में गड़बड़ी संबंधी शिकायत आयोग से की गई है।पार्टी ने यवतमाल-वाशिम और गढ़चिरौली-चिमूर सीटों पर भी ऐसी ही गड़बड़ी की चार-चार शिकायतें की हैं।

खबरें और भी हैं...