दैनिक भास्कर हिंदी: रीवा शटल, जबलपुर-कोटा एक्सप्रेस सहित पमरे की 32 गाडिय़ाँ जल्द चलाई जाएँगी...! 

June 19th, 2020

रेलवे बोर्ड ने जीएम को भेजा पत्र, कहा-पैसेंजर ट्रेनों को एक्सप्रेस में बदलने बनाओ प्रस्ताव, यात्रियों को राहत मिलने की उम्मीद
डिजिटल डेस्क  जबलपुर ।
लॉकडाउन की अनलॉकिंग के बाद यात्रियों के लिए खुशखबरी की बात यह है िक जल्द ही रीवा शटल, जबलपुर कोटा एक्सप्रेस सहित पश्चिम मध्य रेलवे की 32 ट्रेनों को चलाया जाएगा, जिसके लिए तैयारियाँ शुरू हो गई हैं। जानकारों के अनुसार यात्रियों की परेशानियों को देखते हुए रेलवे बोर्ड ने पश्चिम मध्य रेलवे सहित सभी जोनों को लैटर भेजकर अपने जोन की 200 किलोमीटर से अधिक दूरी तक चलने वाली पैसेंजर्स ट्रेनों को एक्सप्रेस ट्रेन में बदलने के निर्देश दिए हैं, जिसके लिए ट्रेनों की स्पीड बढ़ाने और स्टेशनों के हॉल्ट कम करने पर जोर दिया गया है। लैटर में रेल प्रशासन को आज 19 जून की शाम 4 बजे तक नियमों के अंतर्गत आने वाली ट्रेनों की सूची, समय और शेड्यूल प्रस्तुत करने को कहा गया है। इस पत्र के आने के बाद पमरे मुख्यालय में हलचल बढ़ गई है और बैठकों का दौर चल रहा है, जिसके आधार पर फाइनल रिपोर्ट तैयार कर रेलवे बोर्ड भेज दी जाएगी।
यात्री सुविधाओं पर कर रहे फोकस7 लॉकडाउन के 70 दिन बीत जाने के बाद रेलवे ने सीमित ट्रेनों का संचालन शुरू किया था, जिसकी वजह से यात्री परेशान हो रहे थे। उसके बाद अब 88 दिन बीत जाने के बाद रेलवे बोर्ड ने कोविड-19 के असर और रेलवे की आय को ध्यान में रखते हुए यात्रियों  को राहत देने के लिए पमरे के अंतर्गत चलने वाली 32 ट्रेनों को चलाने का प्रस्ताव मुख्यालय भेजा है। माना जा रहा है िक इनमें सभी गाडिय़ाँ ऐसी हैं, जो साल भर यात्रियों से भरी रहती हैं। इनमें शटल और पैसेंजर गाडिय़ाँ हैं, जो यात्रियों की लाइफ लाइन हैं। इन लोकल लेवल की ट्रेन चलने से यात्रियों को सफर की सुविधा मिलेगी, वहीं छोटे व्यापारियों को व्यापार करने का अवसर मिलेगा। 
 

खबरें और भी हैं...