दैनिक भास्कर हिंदी: राजस्थान : घोड़े से उतारकर दलित दूल्हे की पिटाई का मामला, 7 आरोपी गिरफ्तार

April 30th, 2018

डिजिटल डेस्क, राजस्थान। आए दिन देश के अलग-अलग हिस्सों से दलितों के साथ हो रहे अत्याचारों की खबरें सामने आती रहती हैं। ताजा मामला सामने आया है राजस्थान के भीलवाड़ा से, जहां घोड़े पर बारात निकालने पर एक दूल्हे की जमकर पिटाई की गई। मामला 29 अप्रैल का है, जब भीलवाड़ा के गोवर्धनपुरा गांव का रहने वाला एक दलित युवक घोड़ी पर चढ़कर अपनी बारात ले जा रहा था। तभी कुछ लोगों ने आकर उसे जबरन घोड़ी से उतारकर उसकी जमकर पिटाई कर दी। बदमाशों ने पीड़ित के परिजनों को भी नहीं बख्शा और उनकी भी पिटाई की। पुलिस ने इस मामले में अब तक 7 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है।

बताया जा रहा है कि गांव के ही रहने वाले भंवरलाल रेगर ने 2 दिन पहले पुलिस और प्रशासन को सूचित किया था कि 30 अप्रैल को उसके छोटे भाई की शादी होने जा रही है। शादी से पहले रविवार रात दूल्हे की बिंदौली निकाली गई। बिंदौली के गांव में घुसने पर लोगों ने इसे रोक दिया। इसके बाद भीड़ ने दूल्हे को घोड़ी से जबरन उतारकर उसपर हमला कर दिया। अचानक हुए इस हमले में दूल्हा पक्ष के आधा दर्जन लोग जख्मी हुए हैं।

 

 


पीड़ित युवक का कहना है कि जिस दौरान इस घटना को अंजाम दिया गया उस दौरान पुलिस बल भी मौके पर मौजूद था। फिर भी करीब 30-35 लोगों ने इस घटना को अंजाम दिया और पुलिस मूक दर्शक बनकर तमाशा देखती रही।

इस घटना के बाद से ही गांव में भी तनाव की स्थिति पैदा हो गई। जिसके बाद गांव में भारी पुलिस बल तैनात किया गया है। वहीं पुलिस ने भी मामले को लेकर एससी एसटी एक्ट के तहत मामला दर्ज कर लिया है और 7 आरोपियों को गिरफ्तार भी कर लिया गया है। पुलिस बाकी आरोपियों की पहचान करने में जुटी हुई है।

आपको बता दें कि रविवार को भारतीय जनता पार्टी के सांसद उदित राज ने भी दलितों की स्थिति पर बयान दिया था। उन्होंने कहा था कि इतनी बड़ी संख्या में दलितों के साथ हो रहे दुर्व्यवहार और समाज में फैले भेदभाव के कारण ही धर्म परिवर्तन होता है।