comScore

SIT के एक सदस्य को हुआ कोरोना, रुकी सुशांत के मौत से जुड़ी ड्रग कनेक्शन की जांच

SIT के एक सदस्य को हुआ कोरोना, रुकी सुशांत के मौत से जुड़ी ड्रग कनेक्शन की जांच

डिजिटल डेस्क, मुंबई। अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत से जुड़े ड्रग्स मामले की जांच कर रहे नार्कोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो की विशेष जांच दल (एसआईटी) का एक सदस्य कोरोना संक्रमित पाया गया है। इसके बाद छानबीन की प्रक्रिया रोक दी गई है। बुधवार को सुशांत की पूर्व मैनेजर श्रुति मोदी को मामले में पूछताछ के लिए बुलाया गया था। श्रुति मोदी एनसीबी के ऑफिस पहुंच भी गईं थीं, उनसे पूछताछ शुरू की गई। उनसे करीब पौने दो घंटे पूछताछ की गई, लेकिन इसी बीच एसआईटी के एक सदस्य की कोरोना संक्रमण की रिपोर्ट आ गई, जिसके बाद मोदी को यह कहते हुए गया कि पूछताछ के लिए उन्हें बाद में समन जारी कर बुलाया जाएगा। एनसीबी की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि एंटीेजेन टेस्ट रिपोर्ट अभी मिली है। इसे देखते हुए बाकी सदस्यों की भी कोरोना संक्रमण के लिए जांच की जाएगी और सभी जरूरी एहतियात बरते जाएंगे। साथ ही यह भी कहा गया है कि जांच के लिए पहुंची श्रुति मोदी को वापस भेज दिया गया है। फिलहाल एहतियातन पूरी जांच टीम क्वारेंटाइन कर दी गई है। बता दें कि श्रुति मोदी उन छह आरोपियों में शामिल हैं, जिनके खिलाफ सुशांत के पिता की शिकायत के आधार पर एफआईआर दर्ज की गई है। सुशांत की टैलेंट मैनेजर जया शाह को भी समन भेजकर पूछताछ के लिए बुलाया गया था, लेकिन उनके आने से पहले ही रिपोर्ट आ गई, जिसके बाद उनसे पूछताछ की खटाई में पड़ गई। ड्रग्स के सेवन के मामले में अभिनेत्रियों सारा अली खान और रकुलप्रीत सिंह का भी नाम सामने आया है, जिसके बाद आशंका थी कि एनसीबी इन दोनों को भी पूछताछ के लिए जल्द ही बुलाएगी लेकिन मौजूदा हालात में जांच और पूछताछ में देरी तय है।

पुलिस और अस्पताल को क्लीनचिट

राज्य मानवाधिकार आयोग ने रिया चक्रवर्ती को अपने भाई शोविक के साथ सुशांत का शव देखने शवगृह में जाने की इजाजत देने के मामले में क्लीनचिट दे दी है। आयोग की ओर से कहा गया है कि इस मामले में अस्पताल की ओर से जानकारी दी गई है कि यह इजाजत नियमों के मुताबिक दी गई थी। अस्पताल में सुशांत का शव ऐसी जगह पर था, जहां परिवार वालों और करीबियों को जाने की इजाजत होती है। राज्य मानवाधिकार आयोग के मुताबिक वेटिंग एरिया के संबंध में जो जानकारी दी गई है उससे पता चलता है कि सारे नियमों का पालन किया गया था, इसलिए मामला खत्म किया जाता है। बता दें कि रिया के सुशांत के शव के पास जाने और वहां करीब 45 मिनट बिताने को लेकर सुशांत के परिवार वाले नाराज थे। रिया को शव गृह में जाने की इजाजत देने पर मानवाधिकार आयोग के कूपर अस्पताल और मुंबई पुलिस को नोटिस भेजकर सफाई मांगी थी।

कमेंट करें
Y56RX