दैनिक भास्कर हिंदी: गणेशोत्सव के दौरान पुलिया पर डांस करने से रोकेगा प्रशासन

August 17th, 2019

डिजिटल डेस्क, नागपुर। नागपुर समेत राज्य के सबसे बड़े पर्व गणेशोत्सव में भगवान गणेश की स्थापना के दौरान शहर में एक साथ कई जगहों से भक्त उत्सव में शामिल होते हैं। सार्वजनिक मंडलों द्वारा स्थापित की जानेवाली गणेश प्रतिमा के दौरान बैंड बाजे के साथ लोगों का हुजूम नाचने-गाने में मशगूल रहता है। शहर के चारों दिशाओ में पुल, पुलिया व फ्लाई ओवर है। पुलिया पर एक साथ कई लोग नाचते-गाते समय कोई हादसा न हो, इसलिए मनपा पुलिया पर लोगों को नाचने से मना करने पर गंभीरता से विचार कर रही है। बारिश के दौरान पुलिया पर खतरा बढ़ जाता है। संभावित हादसे को टालने के लिए यह कदम उठाए जा रहे हैं। 

उल्लेखनीय है कि शहर में सार्वजनिक मंडलों की ओर से 900 से अधिक गणेश प्रतिमाएं स्थापित की जाती है। इस साल इसमें और वृध्दि हो सकती है। नागपुर शहर के चारों दिशाओ में रेलवे पुल, पुलिया व फ्लाई ओवर है। पांचपावली, अजनी, इटारसी समेत कई पुल पुराने हो चुके हैं। साथ ही इनकी क्षमता भी अब पहले जैसी नहीं है। गणेश प्रतिमा स्थापना के दौरान एक-एक जगह सैकड़ों भक्त शामिल होते हैं। बैंड-बाजे व संगीत के साथ भगवान गणेश की प्रतिमा लाई जाती है। हाल ही में लगातार हुई बारिश से शहर के पुलों ने जबरदस्त पानी पी लिया है। पानी का ओवरडोज होने पर कांक्रिट के साथ ही सरिया भी कमजोर होती है। एक साथ सैकड़ों लोग नाचने पर पुलों पर ज्यादा भार पड़ता है। पुल क्षतिग्रस्त होकर हादसा होने की संभावना बनी रहती है। इससे बचने के लिए यह सतर्कता बरती जा रही है। 

खुशी में खलल नहीं होना चाहिए

गणेशोत्सव खुशी का पर्व है और इसमें किसी तरह का खलल न हो, इसलिए एहतियातन कदम उठाने की जरूरत है। सार्वजनिक गणेश मंडलों के उत्सव में एक साथ सैकड़ों भक्त शामिल होते हैं। खुशी से नाचते-झूमते हैं। सैकड़ों भक्त एक साथ नाचने पर पुलिया क्षतिग्रस्त होने से इनकार नहीं किया जा सकता। नतीजतन नुकसान भक्तों का हो सकता है। इसे टालने के लिए इसतरह के कदम उठाए जा सकते हैं। आयुक्त से इस संबंध में चर्चा होगी और शीघ्र ही इस संबध में निर्णय लिया जाएगा।  -उल्हास देबडवार, मुख्य अभियंता, मनपा नागपुर.  

खबरें और भी हैं...