पवार के घर पर हमला मामला: फरार वकील ने छोड़ी सुरक्षा, सदावर्ते को हिरासत में लेने की तैयारी में अकोला पुलिस 

April 15th, 2022

डिजिटल डेस्क, मुंबई। राकांपा प्रमुख शरद पवार के घर पर हमले के मामले में आरोपी बनाई गईं वकील जयश्री पाटील ने मुंबई पुलिस द्वारा दी गई सुरक्षा छोड़ दी है। साथ ही उनका मोबाइल भी बंद हो चुका है। पुलिस की एक टीम मामले में उन्हें तलाश कर रही है। वहीं इस मामले में पहले ही गिरफ्तार किए जा चुके जयश्री पाटील के पति गुणरत्न सदावर्ते को शुक्रवार को सातारा सत्र न्यायालय में पेश किया गया, जहां से उन्हें 18 अप्रैल तक पुलिस हिरासत में भेज दिया गया है। सदावर्ते की मुश्किलें और बढ़ सकतीं हैं, क्योंकि उन्हें पुणे और अकोला पुलिस भी हिरासत में लेने की तैयारी कर रही है। सदावर्ते के खिलाफ पुणे के भारती विद्यापीठ पुलिस स्टेशन में 2020 में एफआईआर दर्ज की गई थी। इस मामले की पुलिस जांच कर रही है। साथ ही आरोपपत्र दाखिल करने की मंजूरी के लिए हाल ही में गृहविभाग के पास प्रस्ताव भी भेजा गया है। मराठा आरक्षण के मुद्दे पर सांसद छत्रपति उदयन राजे भोसले और छत्रपति संभाजी राजे के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी के मामले में सदावर्ते के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई थी। जबकि अकोला के अकोट पुलिस स्टेशन में सदावर्ते के खिलाफ एसटी कर्मचारियों से ठगी का मामला दर्ज किया गया है। बता दें कि सदावर्ते महाराष्ट्र राज्य परिवहन निगम (एसटी) के हड़ताली कर्मचारियों के वकील है। कर्मचारी पिछले कई महीनों से सरकार में एसटी के विलय की मांग को लेकर हड़ताल पर हैं। 8 अप्रैल को राकांपा प्रमुख शरद पवार को घर पर एसटी हड़ताली कर्मचारियों ने प्रदर्शन किया था। इस दौरान तोड़फोड़ भी हुई थी। गामदेवी पुलिस स्टेशन में मामले में एफआईआर दर्ज कर छानबीन की जा रही है।पुलिस का दावा है कि हमला पूर्व नियोजित साजिश के तहत किया गया और सदावर्ते इसके मुख्य सूत्रधार हैं।