दैनिक भास्कर हिंदी: अमरकंटक मिनी स्मार्ट सिटी - पूर्व कंसल्टेंट इंजीनियर पर ब्लैकमेलिंग का मामला दर्ज

June 15th, 2020

परियोजना प्रबंधक के नाम पर पैसे मांगने की अमरकंटक थाने में हुई थी शिकायत
डिजिटल डेस्क शहडोल/अनूपपुर ।
अमरकंटक मिनी स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के पूर्व कंसलटेंट इंजीनियर पर अमरकंटक पुलिस ने ब्लैकमेलिंग का मामला दर्ज किया है। इंजीनियर द्वारा बिल पास कराने के लिए पैसों की मांग संबंधी शिकायत की जांच के बाद यह मामला पंजीबद्ध हुआ है। वहीं परियोजना प्रबंधक एके नंदा का नाम भी इंजीनियर द्वारा लिया गया था, जिसकी जांच की जा रही है। इस कार्रवाई से ऐसे संकेत मिल रहे हैं कि मिनी स्मार्ट प्रोजेक्ट में व्यापक पैमाने पर गड़बडिय़ा हो रही हैं।
अमरकंटक मिनी स्मार्ट सिटी का काम कर रही अरुण कंस्ट्रक्शन कंपनी के साइट मैनेजर सुशील मिश्रा की शिकायत पर पूर्व कंसलटेंट इंजीनयर  इंजीनियर (एसीएम) शिव नारायण मिश्रा के विरुद्ध 13 जून की देर रात अमरकंटक थाने में धारा 384, 294, 323, 506 के तहत मामला पंजीबद्ध किया गया है।  बताया जाता है कि मामला पंजीबद्ध न हो इसके लिए विभागीय अधिकारियों के फोन भी घनघनाते रहे। इस मामले पर पर्दा डालने का पूरा प्रयास किया जा रहा था। प्रोजेक्ट में बतौर एसीएम शिव नारायण मिश्रा का कार्यकाल 30 अप्रैल 2020 तक ही था।
33 करोड़ की है परियोजना, दिसंबर 2019 तक पूरा होना था काम
15 मई 2017 को नर्मदा सेवा यात्रा के समापन के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश की पहली मिनी स्मार्ट सिटी के रूप में अमरकंटक को सौगात दी थी। 33 करोड़ की लागत से अमरकंटक के आंतरिक मार्गों का निर्माण और राम घाट समेत नगर में सौंदर्यीकरण किया जाना था। 31 दिसंबर 2019 तक यह परियोजना पूरी होनी थी, लेकिन परियोजना प्रारंभ होने के साथ ही बजट और विभागीय अधिकारियों की उपेक्षा शुरू हो गई। समय सीमा बीत जाने के बाद भी कार्य पूरा नहीं हो पाया। मिनी स्मार्ट सिटी के अधूरे कार्यों की वजह से अमरकंटक पर लगे ग्रहण को लेकर दैनिक भास्कर ने प्रमुखता से उठाया था।  
इनका कहना है
साइट मैनेजर ने मुझे फोन पर बताया था कि इंजीनियर शिवनारायण मिश्रा अमरकंटक आए हुए हैं। परियोजना प्रबंधक एके नंदा के लिए 50 हजार रुपए मांग रहे हैं, तभी बिल पास हो पाएगा। इसकी शिकायत थाने में कराई गई थी।
सुधीर पांडे, प्रोजेक्ट मैनेजर अमरकंटक मिनी स्मार्ट सिटी
11 जून को शिकायत मिली थी। जांच के बाद इंजीनियर शिव नारायण मिश्रा के विरुद्ध शनिवार रात धारा 384 व मारपीट की धाराओं में मामला पंजीबद्ध किया गया है।
भानु प्रताप सिंह, थाना प्रभारी अमरकंटक
मैं अभी वीसी में हूं। इस पूरे मामले की जानकारी लेकर कार्रवाई की जाएगी।
नितेश व्यास, प्रमुख सचिव नगरीय प्रशासन एवं विकास विभाग