दैनिक भास्कर हिंदी: हथियार बरामद मामला : राकांपा विधायक आव्हाण सहित निशाने पर थे चार लोग

August 31st, 2018

डिजिटल डेस्क, मुंबई। नालासोपारा हथियार बरामदगी मामले में गिरफ्तार आरोपियों के निशाने पर राकांपा विधायक जीतेंद्र आव्हाड सहित चार लोग थे। वैभव राऊत सहित इन आरोपियों को गिरफ्तार करने वाले महाराष्ट्र आतंकवादी निरोधी दस्ता (एटीएस) ने मुंबई सत्र न्यायालय को यह जानकारी दी है। पिछले दिनों एटीएस ने पालघर जिले के नालासोपारा से वैभव राउत और अन्य लोगों को गिरफ्तार किया था। अब महाराष्ट्र एटीएस ने अदालत को बताया कि अंध विश्वास के खिलाफ लड़ाई लड़ने वाले कार्यकर्ता श्याम मानव, मुक्ता दाभोलकर, रितू राज और राकांपा विधायक जीतेंद्र आव्हाड इनके हिटलिस्ट में थे।

शुक्रवार को एटीएस ने इस मामले में गिरफ्तार अविनाश पवार को अदालत में हाजिर कर उसकी पुलिस कस्टडी की मांग की। इस पर अदालत ने पूछा कि अब तक इस मामले की जांच में क्या पता चला है। इस पर एटीएस के वकील ने सत्र न्यायालय को बताया कि गिरफ्तार आरोपी ने श्याम मानव, मुक्ता दाभोलकर, रितू राज और राकांपा विधायक जीतेंद्र आव्हाड पर हमले की साजिश रच रहे थे।

मुक्ता दाभोलकर दिवंगत नरेंद्र दाभोलकर के बेटी और रितू राज अंध श्रद्धा निर्मूलन समिति से जुड़ी हैं। एटीएस ने अदालत को बताया कि पवार ने इसके लिए कुछ जगहों की पड़ताल भी की थी। उसने दूसरे राज्यों में जाकर हथियार चलाना भी सिखा था। राकांपा विधायक आव्हाण द्वारा बार-बार हिंदू धर्म के खिलाफ टिप्पणी से ये नाराज थे। एटीएस ने बीते 24 अगस्त को अविनाश पवार को घाटकोपर के भटवाडी से गिरफ्तार किया था। 

इसके पहले इस मामले में वैभव राउत, शरद कालस्कर और सुधनवा गोंधालेकर को गिरफ्तार किया गया था। इनसे पूछताछ से मिली जानकारी के आधार पर अविनाश पवार को गिरफ्तार किया गया। एटीएस ने दावा किया था कि ये लोग महाराष्ट्र के अलग-अलग शहरों में आतंकी हमलों को अंजाम देने की फिराक में थे।