comScore

अब बुधवार को लोकदरबार लगाएंगे अशोक चव्हाण, कांग्रेस कार्यालय में दोपहर 3 बजे से होंगे मौजूद

अब बुधवार को लोकदरबार लगाएंगे अशोक चव्हाण, कांग्रेस कार्यालय में दोपहर 3 बजे से होंगे मौजूद

डिजिटल डेस्क, मुंबई। पूर्व मुख्यमंत्री व राज्य के पीडब्लूडी मंत्री अशोक चव्हाण अब लोगों की शिकायतें सुनने के लिए हर बुधवार को प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में जनता दरबार लगाएंगे। गांधी भवन में लगने वाले जनता दरबार को लोकदरबार का नाम दिया गया है। चव्हाण ने बताया कि मंगलवार और बुधवार को राज्य के कोने-कोने से लोग अपनी समस्याओं के समाधान के लिए मुंबई पहुंचते हैं। लेकिन मंत्रालय में प्रवेश के लिए भारी भीड़ के चलते उन्हें काफी समय इंतजार करना पड़ता है। लोगों की यह परेशानी दूर करने के लिए मैं खुद हर बुधवार को दोपहर 3 बजे से प्रदेश कांग्रेस कार्यालय, गांधी भवन, तन्ना हाऊस, मैजेस्टिक एमएलए हास्टल के पीछे, रिगल सर्कल के समीप, कुलाबा, मुंबई में मौजूद रह कर लोगों की समस्याओं की जानकारी लूंगा। उन्होंने बताया कि पहला लोकदरबार 22 जनवरी, बुधवार को दोपहर 3 बजे से आयोजित किया गया है। चव्हाण ने विश्वास जताया कि इससे लोगों के आवेदन पत्र स्वीकार करने के लिए एक निश्चित जगह व समय उपलब्ध हो सकेगा।   

कांग्रेस की 23 जनवरी को मुंबई में अहम बैठक

उधर नई दिल्ली में कांग्रेस ने विवादित मुद्दों को लेकर चर्चा के लिए 23 जनवरी को मुंबई में पार्टी की एक अहम बैठक बुलाई है। महाराष्ट्र के प्रभारी महासचिव मल्लिकार्जुन खडगे और महासचिव के सी वेणुगोपाल की अध्यक्षता में यह बैठक होगी।
जानकारी के अनुसार कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के कहने पर यह बैठक बुलाई गई है। सरकार में शामिल कांग्रेस के सभी मंत्री बैठक में मौजूद रहेंगे। महाविकास आघाडी सरकार ने भले ही कॉमन मिनिमम प्रोग्राम के तहत कामकाज शुरु किया है, लेकिन तीनों पार्टी के नेताओं के अलग-अलग बयानों से सरकार विवादों से घिर गई है। चाहे वह सावरकर का मुद्दा हो, शिवसेना नेता संजय राऊत द्वारा एक समय के अंडरवर्ल्ड डॉन करीम लाला से पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के मिलने वाला बयान हो या फिर साईबाबा के जन्मस्थान का विवाद। इन मुद्दों के अलावा सरकार पर दोषारोपण करने का विपक्ष को मुद्दा न मिले ऐसे तमाम मुद्दों पर बैठक में मंथन हो सकता है।    


 

कमेंट करें
sZi0j