आरोपियों को पुन: रिमांड पर ले सकती है पुलिस: एटीएम लूट-मर्डर केस: 8 दिन की रिमांड हुई खत्म, लुटेरे भेजे गए जेल

February 28th, 2022

डिजिटल डेस्क, जबलपुर। गोराबाजार थाना क्षेत्र के ितलहरी स्थित बैंक ऑफ महाराष्ट्र के एटीएम में लूट और मर्डर की वारदात को अंजाम देने वाले आरोपी मनोज पाल व सुनील पाल की पुलिस िरमांड सोमवार को खत्म हो गई। दोपहर बाद पुलिस ने कड़ी सुरक्षा के बीच आरोपियों को कोर्ट में पेश किया, जहाँ से उन्हें न्यायिक अभिरक्षा में जेल भेज िदया गया। इस प्रकरण से जुड़े कुछ महत्वपूर्ण पहलुओं पर अभी भी िववेचना जारी है,जिसके संबंध में आने वाले दिनों में आरोपियों को पुन: रिमांड पर लिया जा सकता है।
उल्लेखनीय है कि 11 फरवरी को तिलहरी स्थित बैंक ऑफ महाराष्ट्र के एटीएम परिसर में आईएसआई कंपनी की कैश वैन के दो कैशियरों व गनमैन पर फायरिंग करके लुटेरों ने 33 लाख रुपए लूट लिए थे। 12 िदनों तक पुलिस ने िदन-रात जाँच पड़ताल के बाद आरोपियों की पहचान यूपी वाराणसी िनवासी मनोज पाल और सुनील पाल के रूप में की थी। मनोज और सुनील दोनों सगे भाई हैं, जिन्हें जबलपुर पुलिस वाराणसी से 22 फरवरी को िगरफ्तार करके शहर लौटी थी। मनोज और सुनील को आठ िदन की पुलिस िरमांड पर लेकर पूछताछ की जा रही थी, जो सोमवार को खत्म हुई। इस प्रकरण में भौतिक साक्ष्य काफी महत्वपूर्ण हैं, जिनके जरिए पुलिस आरोपियों को सजा दिलाने की तैयारियाँ कर रही हैैं।
आरोपी मनोज व सुनील पाल को िरमांड खत्म होने पर न्यायालय में पेश किया गया था, कोर्ट के िनर्देश पर दोनों को न्यायिक अभिरक्षा में जेल में दाखिल करवा िदया गया है। िववेचना जारी है, जाँच में नए तथ्य आने पर आरोपियों को पुन: िरमांड पर लिया जा सकता है।
-सहदेवराम साहू, टीआई गोराबाजार