दैनिक भास्कर हिंदी: मोदी के नागपुर दौरे से पहले गडकरी ने लिया तैयारियों का जायजा, 5 सितंबर को मुंबई में आरपीआई का सम्मेलन

September 2nd, 2019

डिजिटल डेस्क, नागपुर। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दौरे को लेकर तैयारियां जोरों पर है। 7 सितंबर को प्रधानमंत्री कस्तूरचंद पार्क में सभा को संबोधित करेंगे। सभा में अधिक से अधिक युवाओं और समाज वर्ग के लोगों को जोड़ने का प्रयास किया जा रहा है। केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितीन गडकरी ने इस संबंध में एक बैठक लेकर तैयारियों का जायजा लिया है। रविवार को बैठक में पालकमंत्री चंद्रशेखर बावनकुले, जिलाधिकारी अश्विन मुद्गल,पुलिस आयुक्त डॉ.भूषणकुमार उपाध्याय, भाजपा के शहर अध्यक्ष प्रवीण दटके, विधायकगण व भाजपा के अन्य प्रमुख पदाधिकारी थे। प्रधानमंत्री मेट्रो परियोजना के अलावा विविध कार्यों का शुभारंभ करेंगे। विधानसभा चुनाव के पहले प्रधानमंत्री का यह दौरा नागपुर व विदर्भ क्षेत्र में भाजपा के लिए राजनीतिक तौर पर भी महत्वपूर्ण माना जा रहा है। लिहाजा सभा में अधिक से अधिक भीड़ जुटाने का भी प्रयास किया जाएगा। इसकेे लिए सभी मंडल के पदाधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिए गए हैं। बताया जा रहा है कि कार्यक्रम को लेकर मंगलवार को भी बैठक होनेवाली है। गौरतलब है कि मेट्रो रेल परियोजना के शुभारंभ के अवसर पर भी प्रधानमंत्री की कस्तूरचंद पार्क में सभा हुई थी। करीब 4 साल पहले हुई उस सभा में शहर के अन्य विकास कार्यों का भी शुभारंभ किया गया था। 2018 में महिला सम्मेलन के सिलसिले में प्रधानमंत्री यवतमाल जिले के पांढरकवड़ा में पहुंचे थे। उस कार्यक्रम में उन्होने नागपुर पुणे एक्सप्रेस ट्रेन का डिजीटल शुभारंभ किया था। माना जा रहा है कि कस्तूरचंद पार्क में होनवाली प्रधानमंत्री की सभा विदर्भ में भाजपा के चुनाव कार्य की आगाज स्वरुप होगी। उस सभा में भी अन्य दल के कुछ नेता भाजपा में प्रवेश ले सकते हैं। 

 

गणेश उत्सव और पीएम की सुरक्षा में जुटा पुलिस प्रशासन

गणेश उत्सव और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का दौरा, ऐसे दोहरे बंदोबस्त की जिम्मेदारी पुलिस के कंधों पर आ पड़ी है। जिसके चलते महकमे में लोगों के साप्ताहिक अवकाश रद्द किए गए हैं। बंदोबस्त के लिए प्रशासन ने पूरी तरह कमर कस ली है। इस बीच संदिग्ध व्यक्ति दिखाई देने पर हिरासत में लेने के निर्देश पुलिस आयुक्त डॉ. भूषणकुमार उपाध्याय ने महकमे को दिए हैं। हर वर्ष की तरह इस बार भी गणेश उत्सव बड़े ही धूमधाम से मनाया रहा है। 1 से 12 सितंबर तक चलते वाले इस धार्मिक उत्सव के दौरान पुलिस ने तगड़ा बंदोबस्त रखने की रणनीति अपनाई है। ऐसे में 7 सितंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का नागपुर में एक दिवसीय दौरा भी है। इससे पुलिस की पुलिस की जिम्मेदारी और बढ़ गई है। प्रधानमंत्री का दौरा और गणेश उत्सव के कारण दोहरे बंदोबस्त की जिम्मेदारी पुलिस के कंधों पर आ पड़ी है। सुरक्षा यंत्रणा को लेकर आला अधिकारियों के बीच बैठकों को दौर चल रहा है। इसे और पुख्ता करने के लिए सुरक्षा का पूर्वाभ्यास भी जारी है। पूर्वाभ्यास के तहत सार्वजनिक अंतरराष्ट्रीय डॉ. बाबासाहेब आंबेडकर हवाई अड्डा, रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड, होटल्स, लॉजेस, महत्वपूर्ण रिर्जव बैंक तथा धार्मिक स्थानों पर सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई है। मुसाफिरों के सामान की गहनता से जांच की जा रही है। शहर के भीतर-बाहर आने-जाने  वाहनों की शहर सीमा पर गहन जांच करने के बाद प्रवेश िदया जा रहा है। इस बीच संदिग्ध व्यक्ति दिखाई देने पर उसे तत्काल हिरासत में लेने के निर्देश पुलिस आयुक्त डॉ. भूषणकुमार उपाध्याय ने बंदोबस्त में तैनात कर्मचारी और अधिकारियों को दिए हैं। कुल मिलाकर परिंदा भी पर न मार  सके, ऐसी सुरक्षा व्यवस्था प्रधामंत्री नरेंद्र मोदी के आगमन और गणेश उत्सव में की जा रही है। 

यातायात सुचारू रखने के निर्देश

ध्वनि प्रदूषण बारे में भी सार्वजनिक गणेश उत्सव मंडलों को निर्देश दिए गए हैं। ध्वनि प्रदूषण होने पर सख्त कारवाई करने की चेतावनी मंडलों को दी गई है। यातायात सुचारू संचालन हो, जाम न लगे, इसके लिए कुछ फिक्स प्वाइंट चिह्नित किए गए हैं।

 

आरपीआई का प्रदेश सम्मेलन 5 सितंबर को 

उधर मुंबई में केंद्रीय सामाजिक न्याय व अधिकारिता राज्य मंत्री रामदास आठवले की पार्टी आरपीआई का प्रदेश सम्मेलन 5 सितंबर को वरली के एनएससीआई क्लब में आयोजित होगा। इस सम्मेलन में महायुति के सभी प्रमुख नेता एक मंच पर जाएंगे। आरपीआई के सम्मेलन में मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस, शिवसेना पक्ष प्रमुख उद्धव ठाकरे, भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष चंद्रकांतदादा पाटील, प्रदेश के उद्योग मंत्री सुभाष देसाई, राष्ट्रीय समाज पक्ष के संस्थापक अध्यक्ष व प्रदेश के पशुसंवर्धन मंत्री महादेव जानकर समेत सरकार के कई मंत्री मौजूद रहेंगे।