comScore

सीएम के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने हाईकोर्ट जाएंगे भाजपा नेता

सीएम के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने हाईकोर्ट जाएंगे भाजपा नेता

डिजिटल डेस्क, मुंबई। कोर्लई जमीन घोटाले के मामले में मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने की मांग करते हुए भाजपा के वरिष्ठ नेता और पूर्व सांसद किरीट सोमैया सोमवार को रायगढ़ जिले के अलीबाग में स्थित रेवदंडा पुलिस स्टेशन पहुंचे। सोमैया के साथ उनके वकील महेश मोहिते भी थे। सोमैया ने कहा कि उन्होंने इस मामले में इसी साल 3 मार्च को 402 पेज की शिकायत की थी लेकिन अब तक मामले में कोई एफआईआर दर्ज नहीं की गई। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री के खिलाफ एफआईआर दर्ज नहीं हुई को वे हाईकोर्ट जाएंगे।

सोमैया ने कहा कि घोटाला हुआ, जालसाजी हुई उसके सबूत दिए फिर एफआईआर क्यों नहीं दर्ज की जा रही है। सोमैया ने मीडिया से बातचीत में कहा कि सर्वोच्च न्यायालय का निर्देश है कि 15 दिन में फैसला किया जाना चाहिए। अगर पुलिस अगले 15 दिनों में एफआईआर दर्ज नहीं करती तो मैं बांबे हाईकोर्ट में जाऊंगा। सोमैया ने कहा कि ठाकरे परिवार ने जमीन घोटाला किया है और इसकी एसआईटी के जरिए जांच कराई जानी चाहिए। 

बता दें कि किरीट सोमैया ने आरोप लगाया है कि आर्किटेक्ट अन्वय नाईक के परिवार से मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की पत्नी रश्मी ठाकरे के बीच जमीन का सौदा हुआ था। सोमैया के मुताबिक यह सौदा ठाकरे ने अपने चुनावी हलफमाने में छिपाया था। सोमैया का यह भी दावा है कि संपत्ति के कागजों में कीमत चार करोड़ रुपए थी जबकि इसे दो करोड़ रुपए में ही खरीदा गया था। उनका यह भी दावा है कि संपत्ति के लिए कई बार सौदा किया गया था। बता दें कि आर्किटेक्ट अन्वय नाईक ने बाद में आत्महत्या कर ली थी और उन्होंने सुसाइड नोट में रिपब्लिक चैलन के प्रमुख अर्णब गोस्वामी का नाम लिखा था। इस मामले में पुलिस ने गोस्वामी को आत्महत्या के लिए उकसाने के आरोप में गिरफ्तार भी किया था।  
 

कमेंट करें
8set5