दैनिक भास्कर हिंदी: शाह बोले- अभी नहीं आया BJP का स्वर्ण युग, उड़ीसा, पश्चिम बंगाल और लोकसभा चुनाव बाकी

April 6th, 2018

डिजिटल डेस्क, मुंबई। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि देश के 22 प्रदेशों में भाजपा की सरकारें हैं। लेकिन अभी भाजपा का स्वर्ण युग नहीं आया है। उड़ीसा, पश्चिम बंगाल और आगामी लोकसभा चुनाव जितने के बाद पार्टी का स्वर्णिम युग आएगा। इस दौरान कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और राकांपा अध्यक्ष शरद पवार शाह के निशाने पर रहे। भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि राहुल को राष्ट्रवादी कांग्रेस के अध्यक्ष शरद पवार ने इंजेक्शन दिया है। इसलिए राहुल आजकल ज्यादा सवाल पूछते हैं। शाह ने कहा कि राहुल मोदी सरकार से हिसाब मांगते हैं। लेकिन देश की जनता राहुल से चार पीढ़ियों का हिसाब मांग रही है।

राहुल एससी-एसटी एक्ट को लेकर सवाल खड़े कर रहे हैं। लेकिन मैं स्पष्ट कर देना चाहता हूं कि भाजपा आरक्षण को खत्म नहीं करेगी। यदि कांग्रेस और राष्ट्रवादी कांग्रेस आरक्षण हटाने का प्रयास करेगी तो भाजपा उन्हें ऐसा करने नहीं देगी। शाह ने कहा कि केंद्र की मोदी सरकार और प्रदेश की फडणवीस सरकार के कार्यकाल में भ्रष्टाचार के एक भी मामले सामने नहीं आए हैं। प्रदेश में भाजपा सरकार बनने के बाद किसान आत्महत्या के मामले में कमी आई है। शाह ने कहा कि डॉ. बाबासाहब आंबेडकर जयंती पर 14 अप्रैल को भाजपा के कार्यकर्ता 20 हजार गांवों में जाकर रात्रि विश्राम करेंगे। पार्टी कार्यकर्ता दलितों और गरीबों को सरकार की नीतियों और विकास कामों के बारे में बताएंगे।

भाजपा बाप-बेटे व मां-बेटे की पार्टी नहीं
रैली में केंद्रीय परिवहन नितिन गडकरी ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि भाजपा बाप-बेटे और मां-बेटे की पार्टी नहीं है। भाजपा सामान्य कार्तकर्ताओं की पार्टी है। इसीलिए चाय बेचने वाले मोदी देश के प्रधानमंत्री बन सके। मैं दीवारों पर पोस्टर चिपकता था। फिर भी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष पद तक पहुंचा। विकास कामों पर आवंटित निधि को लेकर मनसे अध्यक्ष राज ठाकरे को दादर में चर्चा करने की खुली चुनौती दी। गडकरी ने कहा कि केंद्र सरकार प्रदेश में एक लाख रुपए सिंचाई परियोजनाओं पर खर्च करेगी। अगले दो साल में राज्य में सिंचाई का क्षेत्र 40 प्रतिशत हो जाएगा।

सारे बेरोजगार एकजुट हो कर रहे लड़ने की तैयारीः फडणवीस
इस मौके पर मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने राष्ट्रवादी कांग्रेस के अध्यक्ष शरद पवार पर हमला बोला। फडणवीस ने कहा कि पवार मुख्यमंत्री कार्यालय के चाय के खर्च पर सवाल उठाते हैं। लेकिन मैं पवार से कहना चाहूंगा कि हम चाय पीते हैं इसलिए हमारे यहां आने वाले लोगों को चाय ही पिलाते हैं। क्योंकि हम वह नहीं पिला सकते हैं जो आपकी पार्टी (पवार) के नेता पीते हैं। मुख्यमंत्री ने मनसे अध्यक्ष राज ठाकरे पर भी कटाक्ष किया। फडणवीस ने कहा कि मुझे स्कूल का क्लास मॉनिटर बताने वालों से कहना चाहूंगा कि मेरी कक्षा आप (राज) की तरह खाली नहीं है। मुख्यमंत्री ने कहा कि सारे बेरोजगार मिल कर मोदी से लड़ने की तैयारी कर रहे हैं। इस मौके पर फडणवीस ने शिवसेना प्रमुख दिवंगत बाला साहेब ठाकरे को भी याद किया।