दैनिक भास्कर हिंदी: अधिक क्वारेंटाईन बेड के लिए कब्जे में ली है इमारत, बिल्डर ने बीएमसी के खिलाफ दायर की याचिका 

June 17th, 2020

डिजिटल डेस्क, मुंबई। मुंबई महानगरपालिका (बीएमसी) ने बॉम्बे हाईकोर्ट को सूचित किया है कि कोरोना संक्रमित के संपर्क में आने वाले लोगों के जांच में तेजी लाना चाहती है। इसलिए उसे और क्वारेंटाईन बेड की जरुरत पड़ेगी। अभी जांच का अनुपात 1:10 का  है जिसे मनपा बढ़ाकर 1:15 करना चाहती है। इसलिए भविष्य में और बेड की आवश्यकता पड़ेगी। इस वजह से उसने भायखला स्थित नील कमल रियल्टर्स की इमारत को क्वारेंटाईन में लोगों को रखने के लिए अपने कब्जे में लेने का निर्णय किया है। मनपा के इस निर्णय के खिलाफ नीलकमल रियल्टर्स ने हाईकोर्ट में याचिका दायर की है। इस याचिका के जवाब में मुंबई मनपा ने यह हलफनामा दायर किया है। हलफनामे में कहा गया है कि भविष्य में कोरोना के मरीजों की संख्या बढ़ सकती हैं। और उसके पास ई वार्ड में ज्यादा बेड नहीं है।