दैनिक भास्कर हिंदी: नागपुर में हो सकेगा कैंसर के मरीजों का उपचार, टीबी वार्ड परिसर में बनेगा कैंसर अस्पताल

July 4th, 2019

डिजिटल डेस्क, नागपुर। कैंसर के मरीजों की संख्या दिनों-दिन तेजी से बढ़ रही है। उपचार के लिए समय पर पर्याप्त सुविधा नहीं रहने से मरीजों को मुंबई जाना पड़ता है।  नागपुर में कैंसर के उपचार के लिए सरकारी कैंसर अस्पताल शुरू करने की सरकार ने घोषणा की थी। दिसंबर में कैंसर विभाग को अपग्रेड करने के प्रस्ताव को मंजूरी दी गई। हालांकि मेडिकल प्रशासन अत्याधुनिक सुविधायुक्त कैंसर अस्पताल को मंजूरी प्राप्त करने की दिशा में प्रयास कर रहा है। कैंसर अस्पताल के लिए टीबी वार्ड परिसर में जमीन का चयन किए जाने की सूत्रों से जानकारी मिली है।

एनआईटी करेगी इमारत का निर्माण

उल्लेखनीय है कि कैंसर विभाग के अपग्रेडेशन को मंजूरी देकर 76 करोड़, 10 लाख रुपए निधि मंजूर किया गया है। इमारत का निर्माण एनआईटी के माध्यम से करने के दिशा-निर्देश दिए गए हैं। मेडिकल प्रशासन की ओर से इमारत निर्माण का प्रस्ताव एनआईटी को भेजा गया है। नवनिर्मित इमारत में रेडियो ओंकालोजी, मेडिसिन ओंकालोजी, सर्जरी ओंकालोजी, हेड एंड नेक ओंकालोजी, गायनिक ओंकालोजी, पीडियाट्रिक ओंकालोजी आदि विभाग रहेंगे। जहां कैंसर के मरीजों का उपचार हो सकेगा। इमारत के निर्माण पर एनआईटी की ओर से इमारत का प्रारूप तैयार करने की प्रक्रिया शुरू किए जाने की जानकारी मिली है।

अत्याधुनिक सुविधा उपलब्ध होगी

रेडियोथेरेपी विभाग को अपग्रेड कर अत्याधुनिक सुविधा उपलब्ध कराने को सरकार ने स्वीकृति दी है। स्वतंत्र इमारत का निर्माण, आवश्यक मशीनरी तथा अन्य खर्च विभाग को मिलने वाले सर्वसाधारण निधि से खर्च करना होगा। यदि निधि कम पड़ता है तो आवश्यकता के अनुसार विभाग से प्रस्ताव भेजने पर आवंटन करने का आश्वस्त किया गया था। इसी के आधार पर आवश्यक संसाधनों के लिए सरकार को प्रस्ताव भेजा जाएगा। मानव संसाधन तथा पद स्थापना का प्रस्ताव निर्धारित कार्यपद्धति के अनुसार संबंधित उच्चस्तरीय समिति के पास अलग से भेजा जाएगा। सरकार से इन प्रस्तावों को मंजूरी मिलती है, तो कैंसर अस्पताल का सपना साकार हो सकता है।
 

खबरें और भी हैं...