दैनिक भास्कर हिंदी: नागपुर सहित गुट्टे के 9 ठिकानों पर ईडी का छापा, बेटे ने बनाई थी फिल्म ‘एक्सिडेंटल प्राईम मिनिस्टर’ 

June 6th, 2019

डिजिटल डेस्क, मुंबई। कारोबारी रत्नाकर गुट्टे के मुंबई, परभणी और नागपुर स्थित 9 ठिकानों पर गुरूवार को प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की टीमों ने छापेमारी की। बैंकों से 328 करोड़ रुपए से ज्यादा की धोखाधड़ी के मामले में यह छापेमारी की गई है। चीनी उद्योग से जुड़े गुट्टे राष्ट्रीय समाज पक्ष के नेता हैं जो राज्य में मौजूदा सरकार की सहयोगी है। प्रवर्तन निदेशालय ने मुंबई के बांद्रा पश्चिम में स्थित एक शैक्षणिक संस्था समेत तीन ठिकानों पर छापेमारी की। छापेमारी के दौरान क्या कुछ बरामद हुआ फिलहाल ईडी अधिकारियों ने इसका खुलासा नहीं किया है। इसके अलावा परभणी और नागपुर स्थित गुट्टे के छह ठिकानों पर भी छापेमारी की गई है।   

क्या है मामला

आरोप है कि गंगाखेड शुगर एंड एनर्जी प्रायवेट लिमिटेड चीनी मिल के मालिक गुट्टे ने परभणी जिले के  2298 किसानों के नाम पर छह बैंकों से 328 करोड़ रुपए का कर्ज ले लिया। इसमें से पांच सरकारी जबकि एक निजी बैंक है। जिन किसानों के दस्तावेजों को कर्ज लेने के लिए इस्तेमाल किया गया उनमें से ज्यादातर की मौत हो चुकी है। कर्ज आंध्र बैंक,यूको बैंक, यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया, बैंक ऑफ इंडिया, सिंडिकेट बैंक ऑफ इंडिया और आरबीएल बैंक से लिए गए थे। बांबे हाईकोर्ट के औरंगाबाद खंडपीठ ने आर्थिक अपराध शाखा को मामले की जांच के आदेश दिए थे। जिसके बाद ठगी के पैसों के विदेश भेजकर हेराफेरी का मामला सामने आने के बाद प्रवर्तन निदेशालय ने भी इसकी जांच शुरू कर दी। 

बेटे ने बनाई थी ‘एक्सिडेंटल प्राईम मिनिस्टर’

रत्नाकर गुट्टे के बेटे विजय गुट्टे पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह पर लिखी गई किताब के आधार पर ‘द एक्सिडेंटल प्राइम मिनिस्टर’ फिल्म बनाकर सुर्खियों में आए थे। विजय गुट्टे को पिछले साल 34 करोड़ रुपए की वस्तु एवं सेवाकर (जीएसटी) में धोखाधड़ी के आरोप में गिरफ्तार किया गया था।    


 

खबरें और भी हैं...