दैनिक भास्कर हिंदी: शारदा घोटाले मामले में सीबीआई 6 ठिकानों पर की छापामारी

March 22nd, 2021

डिजिटल डेस्क, मुंबई। शारदा घोटाला मामले में केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने सोमवार को मुंबई में छह ठिकानों पर छापेमारी की। सेबी के तीन अधिकारियों के घरों और दफ्तरों पर छापे मारे गए। तीनों अधिकारी साल 2009 से 2013 के बीच कोलकाता में तैनात थे और उन पर आरोपियों की मदद करने का संदेह है। छापेमारी के दौरान कई अहम दस्तावेज बरामद किए गए हैं। सीबीआई सूत्रों के मुताबिक सेबी के चीफ जनरल मैनेजर (इन्वेस्टिगेशन) जयंता जस, डिप्टी जनरल मैनेजर प्रसन्नजीत डे और सीजीएम जीवन सोन परोटे के ठिकानों पर छापे मारे गए हैं। सीबीआई को शक है कि तीनों अधिकारियों ने पश्चिम बंगाल के कोलकाता में नियुक्ति के दौरान शारदा घोटाले के आरोपियों को मदद पहुंचाई थी। यह छापेमारी ऐसे समय हुई है जब पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव होने जा रहे हैं। यह पूरा घोटाला 2460 करोड़ रुपए का बताया जाता है और मामले में ममता बनर्जी की पार्टी तृणमूल कांग्रेस के कई नेता आरोपों के घेरे में हैं। इस घोटाले के जरिए लाखों निवेशकों से फिक्स डिपॉजिट, रिकरिंग डिपॉजिट और मंथली इनकम स्कीम के तहत पैसे लिए गए लेकिन इन पैसों को शारदा ग्रुप की चार कंपनियों के जरिए इधर उधर कर दिया गया। साल 2013 में घोटाले का खुलासा होने के बाद हड़कंप मच गया। उसी साल कंपनी के प्रमोटर सुदीप्त सेन को गिरफ्तार कर लिया गया था। मामले में प्रवर्तन निदेशालय और आयकर विभाग भी छानबीन कर रहा है। अभी भी 80 फीसदी निवेशकों को उनके पैसे नहीं मिले हैं।    
 

खबरें और भी हैं...