दैनिक भास्कर हिंदी: चंद्रकांत पाटील का दावा : अगले चरण में कांग्रेस के कई नेता होंगे भाजपा में शामिल

August 2nd, 2019

डिजिटल डेस्क, पुणे। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष चंद्रकांत पाटील ने दावा किया कि बीजेपी मंे पूरी तरह से जांच परख कर ही प्रवेश दिया जा रहा है। अब अगले चरण में कांग्रेस के नेता भी पार्टी में शामिल होंगे। पाटील ने कहा कि देश के नागरिकों के मन में भाजपा ही है। महराष्ट्र में भी ऐसी ही स्थिति बनी हुई है। इसलिए आघाड़ी के नेता हमारी पार्टी में आ रहे हैं। सभी को पूरी तरह से जांच परख कर ही प्रवेश दिया जा रहा है। अगले चरण में कांग्रेस के कम से कम 10 नेता भाजपा में शामिल हो सकते हैं। भले ही बाहर के लोग पार्टी में आ रहे हैं, लेकिन इससे पार्टी का स्वरूप नहीं बदलेगा। विखे पाटील घराने की तीन पीढ़ियों का अनुभव, परिवार की सामाजिक पृष्ठभूमि आदि को ध्यान रखते हुए राधाकृष्ण विखे पाटील को भाजपा में शामिल कर के लिया है। उन पर भ्रष्टाचार के कोई भी आरोप नहीं है। पार्टी चलाने के लिए ऐसे अनुभव होनेवाले लोगों की जरूरत ही होती है। वहीं राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष शरद पवार और भी झटके लगने की तैयारी करें। ऐसी चेतावनी देकर पाटील ने राकांपा के और भी नेताएं भाजपा में शामिल होने के संकेत दिए। पाटील ने कहा कि मेरे राजनीतिक जीवन में पार्टी ने मुझ पर जो भी जिम्मेदारियां सौंपी है, उनको मैंने सफलतापूर्वक पूरा किया है। आज तक किसी भी पद के लिए इच्छु़क अथवा दावेदार नहीं रहा। मेरे कार्य को देख मुझे महत्वपूर्ण पद मिलते गए। इसलिए यदि मुझे मुख्यमंत्री पद का अवसर दिया गया, तो मैं उसे क्यों छोड़ू? हालांकि उनके इस बयान से वे भी मुख्यमंत्री पद की रेस में होने की चर्चा शुरू हुई है। 

नदी जोडो परियोजना के लिए पाटील की नियुक्ति 

उधर मुंबई में प्रदेश सरकार ने नदी जोडो परियोजना के लिए तकनीकी सलाहकार के रूप में वी डी पाटील की नियुक्ति की है। पाटील जलगांव के तापी सिंचाई विकास महामंडल के सेवानिवृत्त अधीक्षक अभियंता हैं। शुक्रवार को राज्य सरकार के जलसंसाधन विभाग ने इस संबंध में शासनादेश जारी किया। इसके अनुसार पाटील की नियुक्ति एक साल के लिए की गई है। सरकार के अनुसार पाटील को जलगांव की तापी, गोदावरी और कोंकण की नदियों को जोड़ने की परियोजना के नियोजन का लंबा अनुभव है। उनकी नियुक्ति से सरकार की विभिन्न नदी जोड़ो परियोजना के बारे में तकनीकी निर्णय लेने में बड़ी मदद हो सकेगी।  


अतिवृष्टि प्रभावित किसानों को 139 करोड़ 19 लाख रुपए की मदद 

प्रदेश में जून और अगस्त 2018 की कालावधि में अतिवृष्टि के कारण फसलों के हुए नुकसान के लिए किसानों को 139 करोड़ 19 लाख 18 हजार रुपए मदद राशि वितरित करने की मंजूरी दी गई है। अतिवृष्टि प्रभावित किसानों के बैंक खाते में मदद राशि जमा कराई जाएगी। शुक्रवार को राज्य सरकार के मदद व पुनर्वसन विभाग की ओर से शासनादेश जारी किया। इसके अनुसार नागपुर विभाग के आपदा ग्रस्त किसानों को 26 करोड़ 46 लाख 81 हजार 500 रुपए मंजूर किए गए हैं। जबकि अमरावती विभाग के किसानों को 43 करोड़ 51 लाख 23 हजार रुपए स्वीकृत किए गए हैं। औरंगाबाद विभाग के किसानों को 47 करोड़ 500 रुपए मंजूर किए गए हैं। नाशिक विभाग के किसानों को 1 करोड़ 18 लाख 68 हजार 700 रुपए और पुणे विभाग के किसानों को 20 करोड़ 52 लाख 22 हजार 300 रुपए और कोंकण विभाग के किसानों को 50 लाख 22 हजार रुपए मंजूर किए गए हैं। 

खबरें और भी हैं...