चंद्रपुर: ड्राइवर के साथ मारपीट कर ट्रक जलाया, शार्टसर्किट से सैलून में लगी आग

October 5th, 2021

डिजिटल डेस्क, चंद्रपुर। मुंगोली खदान के दो चेक पोस्ट के बीच कोयला भरनेे जा रहे हायवा ट्रक को अज्ञात नकाबपोशों ने रोककर चालक को नीचे उतारकर उसके साथ मारपीट की और हायवा ट्रक पर पेट्रोल छिड़ककर आग के हवाले कर दिया। घटना रविवार रात 10 बजे की  है। 18 पहिया वाला ट्रक क्रमांक एम.एच.34 बीजी 0862 चड्ढा ट्रान्सपोर्ट कंपनी का है। प्राप्त जानकारी के अनुसार वेकोली वणी क्षेत्र के पैनगंगा / मुंगोली खुली खदान में कोयला ट्रान्सपोर्टिंग  का काम चल रहा है। ऐसे चड्ढा ट्रान्सपोर्ट कंपनी को पैनगंगा खदान से घुग्घुस रेलवे साइडिंग का कोयला परिवहन का काम मिला है। घुग्घुस से कोयला परिवहन होने के चलते  नागरिकों ने विरोध भी जताया है। ऐसे में रविवार रात 10 बजे के दरमियान कुछ अज्ञात व्यक्तियों ने ट्रक को रोककर घुग्घुस के शिवनगर निवासी चालक चरणदास चेंन्नूरवार को मारते हुए तीन लोगों ने उसे पकड़कर रखा और अन्य अज्ञात लोगों ने पेट्रोल डालकर ट्रक को आग लगाकर घुग्घुस की ओर फरार हो गए। अज्ञात लोगों ने अपने चेहरों पर दुप्पटा बांधा हुआ था। इसलिए उनकी शिनाख्त नही हो पाई है। बताया जाता है कि, सभी आरोपी घुग्घुस निवासी है।   शिरपुर पुलिस ने मामला दर्ज किया। आगे की जांच एपीआई गजानन करेडकर के मार्गदर्शन में जारी है।

कोयला बना विवाद का कारण?
बता दें कि, आए दिन कोयला खदानें किसी न किसी कारण को लेकर विवादों में रहती हैं। अपना वर्चस्व बनाए रखने के लिए यहां भाईगिरी बढ़कर अपराध का ग्राफ बढ़ता ही जा रहा। पुलिस प्रशासन द्वारा आवश्यक कार्रवाई नहीं किए जाने के चलते अपराधियों की हिम्मत बढ़ रही है। इसका मुख्य कारण कोयला ही है। विगत दिनों ही आतंक मचानेवालों ने वेकोलि वणी क्षेत्र की निलजई खदान में दिनदहाड़े बुंदक निकाली थी। साथ ही बेलोरा टी-प्वाइंट  पर आम नागरिकों पर लाठी-डंडे तक बरसाए गए थे। जिसकी शिकायत यवतमाल व चंद्रपुर एसपी को दी गई थी।

शार्टसर्किट से सैलून में लगी आग

उधर चिमुर के सरकारी अस्पताल के जामगांव रोड से सटे भिसी बाजार चौक स्थित विट्ठल चौधरी की सैलून  में मामूली काम चल रहा था। ऐसे में दुकान मे शार्टसर्किट से  आग लग गई। घटना सोमवार की 4 बजे की है। आग की सूचना मिलते ही एकता गणेश मंडल के पदाधिकारी मौके पर पहुंचे और बड़ा हादसा टला। एकता गणेश मंडल के पदाधिकारियों ने दुकान के जलते वायर काटे, जल रही दुकान को पानी से बुझाया। इस वक्त गणेश मंडल के सूरज कामडी, पुरुषोत्तम कामडी, अमोल चौधरी, राजू चौधरी, स्वप्निल जादे, गोलू शेख, बंडू गिरडे, पप्पू गिरडे, तुलसीराम बेलखोडे गुरुजी, मंगेश मांगुलकर, खेमराज कुमले, सचिन मालवे, कैलास रामटेके, विकास रामटेके, संजय आष्टनकर, उमेश बेलखोडे, अमोल बेलखोडे, खलील शेख, विलास बानकर, पिंटू पडोले ने कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। विट्ठल चौधरी की सैलून की दुकान में आग लगने से हजारों रुपए का नुकसान हुआ। क्षेत्र के नागरिकों ने आर्थिक मुआवजे की मांग की है।