दैनिक भास्कर हिंदी:  टीकाकरण में छिंदवाड़ा जिला फिसड्डी, कमियां तलाशने आए स्टेट ऑफिसर

February 5th, 2020

 सबसे कमजोर पांढुर्ना, हर्रई का बेहतर प्रदर्शन, समीक्षा बैठक से गायब रहे कई अधिकारी 
डिजिटल डेस्क छिंदवाड़ा।
मिशन इंद्रधनुष के दूसरे चरण में निर्धारित लक्ष्य को छिंदवाड़ा जिला हासिल नहीं कर पाया है। मिशन संचालक ने पिछले दिनों टीकाकरण अधिकारी को नोटिस थमाते हुए प्रदेश टीकाकरण अधिकारी डॉ. संतोष शुक्ला को छिंदवाड़ा जिले की कमियां पता करने हिदायत दी थी। मंगलवार को संयुक्त संचालक छिंदवाड़ा पहुंचे। जिला अस्पताल की ट्रामा यूनिट में टीकाकरण अधिकारी, बीएमओ समेत स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं की बैठक लेकर उन्होंने टीकाकरण में लापरवाही करने वाले कर्मचारियों को फटकार लगाई है।
प्रदेश टीकाकरण अधिकारी डॉ. शुक्ला ने बताया कि सिवनी और छिंदवाड़ा जिला मिशन इंद्रधनुष के तहत निर्धारित लक्ष्य का 80 प्रतिशत भी टीकाकरण नहीं कर पाए है। मिशन संचालक छवि भारद्वाज ने नाराजगी जाहिर करते हुए लापरवाह अधिकारी कर्मचारियों पर कार्रवाई के निर्देश दिए है। जिले की मॉनीटरिंग के बाद कमियां निकाली जाएगी। रिपोर्ट तैयार कर शासन को सौंपी जाएगी। 
5 बीएमओ समेत अन्य स्टाफ गायब-
जिला अस्पताल की ट्रामा यूनिट में आयोजित बैठक में पांच बीएमओ, 3 बीपीएम समेत कई स्वास्थ्यकर्मी गायब थे। इस पर प्रदेश टीकाकरण अधिकारी ने नाराजगी जाहिर करते हुए कार्रवाई के लिए कहा है। 
टीकाकरण में हर्रई अव्वल-
जिले में ब्लॉक स्तर पर दिए गए टीकाकरण के लक्ष्य को हासिल करने में हर्रई के स्वास्थ्य कर्मचारियों द्वारा 92 प्रतिशत टीकाकरण कर बेहतर प्रदर्शन किया गया। बीएमओ डॉ.पीयूष शर्मा के बेहतर कार्य पर उनकी और स्टाफ की प्रशंसा की गई। वहीं पांढुर्ना, मोहखेड़, सौंसर, पिण्डरईकला, जुन्नारदेव ब्लॉक टीकाकरण में पीछे है। 
 

खबरें और भी हैं...