दैनिक भास्कर हिंदी: कांग्रेस ने पूछा- सालभर बाद भी सुशांत मौत मामले में सीबीआई नहीं कर सकी खुलासा, भाजपा का आरोप - मिटाए गए सबूत 

June 14th, 2021

डिजिटल डेस्क, मुंबई। अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत के एक साल पूरे होने पर कांग्रेस ने इस मामले की सीबीआई जांच पर सवाल उठाए हैं। जबकि भाजपा ने राज्य सरकार पर सबूत मिटाने का आरोप लगाया है। प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता सचिन सावंत ने कहा कि सुशांत सिंह की मौत के आज (14 जून) एक साल पूरे हो गए। इसके साथ ही सीबीआई जांच के 310 दिन और एम्स अस्पताल के पैनल द्वारा अभिनेता की मौत पर निष्कर्ष निकाले जाने के 250 दिन बीत गए पर सुशांत की मौत को लेकर सीबीआई जांच का निष्कर्ष अभी तक सामने नहीं आ सका। कांग्रेस नेता ने सवाल किया कि आखिर सीबीआई जांच रिपोर्ट को लेकर चुप क्यों है। क्या सीबीआई किसी दबाव में हैॽ प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि एंटीलिया मामले की साजिश रचने वाले सचिन वाझे सहित अन्य पुलिस अधिकारी तत्कालिन मुंबई पुलिस आयुक्त परमबीर सिंह के कार्यालय से जुड़े थे, पर परमबीर सिंह की जांच नहीं हो रही है। एनआईए ने अदालत में अधिक समय की मांग पर किया कुछ नहीं। सावंत ने कहा कि राज्य की महा विकास आघाडी सरकार को बदनाम करने के लिए मोदी सरकार ईडी, एनआईए व सीबीआई का दुरुपयोग कर रही है। 

सुशांत के घर से क्यों हटाए गए थे फर्निचरः राम कदम 

प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता सावंत के आरोपों के जवाब में प्रदेश भाजपा प्रवक्ता व विधायक राम कदम ने कहा कि आखिर अपनी असफलता का ठीकरा कब तक केंद्र सरकार पर फोड़ते रहेंगे। कदम ने कहा कि वाझे किसका पाप था। कौन उससे वसूली करवाता थाॽ परमबीर सिंह को किसने मुंबई पुलिस आयुक्त बनाया थाॽ भाजपा विधायक ने कहा कि अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत मामले में शुरुआती 65 दिनों में किसने सबूत मिटाए। सुशांत की मौत के बाद उनके घर से बेड से लेकर सारे फर्निचर क्यों हटाए गए थे। उसी वक्त पूरे घर की रंगाई-पुताई भी कराई गई थी। यह सब सबूत मिटाने के लिए किए गए थे। कदम ने कहा कि आखिर फ्लैट के मालिक को फ्लैट सौंपने की इतनी जल्दी क्यों थी। उन्होंने कहा क ड्रग्स का धंधा करने वालों को कौन बचा रहा है। कौन उनका प्रवक्ता बना हुआ है। भाजपा नेता ने कहा कि  दरअसल यह सरकार अपनी जिम्मेदारी पूरी करने में नाकाम रही है।