दैनिक भास्कर हिंदी: ठाकरे सरकार से नाराज नहीं है कांग्रेस, सीएम से मिले कांग्रेस नेता थोरात-चव्हाण

June 18th, 2020

डिजिटल डेस्क, मुंबई। राज्य की महा विकास आघाडी सरकार के घटक दल कांग्रेस के नेताओं ने अपनी नाराजगी को लेकर गुरुवार को मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से मुलाकात की। बैठक के बाद प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष व राजस्व मत्री बाला साहेब थोरात ने कहा कि हमनें कोरोना संकट में गरीबों की मदद को लेकर मुख्यमंत्री के साथ चर्चा की है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस गठबंधन से नाराज नहीं है और यह सरकार पांच साल तक अच्छा काम करेगी। मातोश्री में बैठक के बाद पत्रकारों से बातचीत में थोरात ने कहा कि मुख्यमंत्री के साथ बैठक में चक्रवात निसर्ग प्रभावितों की मदद को लेकर चर्चा हुई। उन्होंने कहा कि गरीबों को राहत देने के लिए कांग्रेस नेता राहुल गांधी की न्याय योजना को देशभर में लागू करने की जरुरत है। कांग्रेस नेता ने कहा कि "हम आम आदमी के हित में गठबंधन के साझीदार बने हैं। हमारे एजेंडे में आम आदमी का हित महत्वपूर्ण है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि यह गठबंधन स्थिर है और अगले पांच वर्षों तक अच्छा काम करेगा। एक सवाल के जवाब में थोरात ने कहा कि इस सरकार में कांग्रेस उपेक्षित महसूस नहीं कर रही है। हम केवल विकास निधि का समान वितरण चाहते हैं।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता व राज्य के पीडब्लूडी मंत्री अशोक चव्हाण के साथ  मुख्यमंत्री से मिलने उनके आवास मातोश्री गए थोरात ने कहा कि कुछ ऐसे मुद्दे थे जिन पर आमने-सामने चर्चा करने की जरूरत थी। कुछ मुद्दों पर ज्यादा लोगों वाली बैठकों में चर्चा नहीं की जा सकती। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री के साथ आज की बातचीत सकारात्मक रही। विधान परिषद की राज्यपाल कोटे वाली 12 सीटों पर नियुक्तियों के बारे में पूछे जाने पर थोरात ने कहा कि जब सरकार बनी थी तो यह निर्णय लिया गया था कि विधान परिषद सीटों का समान बंटवारा होगा। इस लिए इस बाबत चर्चा नहीं हुई। थोरात ने इस बात से इंकार किया कि उनकी पार्टी नेताओं को राज्य के मुख्य सचिव अजोय मेहता को सेवा विस्तार देने पर एतराज है। उन्होंने कहा- नौकरशाही को लेकर ठाकरे से कोई चर्चा नहीं हुई। बैठक में शिवसेना सांसद संजय राऊत व अनिल देसाई भी मौजूद थे।

गौरतलब है कि पिछले दिनों कांग्रेस नेताओं ने यह कहते हुए नाराजगी जताई थी कि सरकार के फैसलों में कांग्रेस की भागीदारी नहीं रहती। इसके बाद शिवसेना ने अपने मुखपत्र में कांग्रेस को चरमराने वाली पुरानी खाट बता दिया था।