comScore

केंद्र के कृषि कानूनों के विरोध में कांग्रेस की किसान बचाओ वर्चुअल रैली

केंद्र के कृषि कानूनों के विरोध में कांग्रेस की किसान बचाओ वर्चुअल रैली

डिजिटल डेस्क, मुंबई। केंद्र सरकार के नए कृषि कानूनों को विरोध में कांग्रेस की ओर से गुरुवार को प्रदेश में ‘किसान बचाओ’ वर्चुअल रैली आयोजित की जाएगी। कांग्रेस के नेता राज्य के छह जगहों से 10 हजार गांवों के 50 लाख किसानों को संबोधित करेंगे। गांवों में एलईडी स्क्रीन, एलसीडी प्रोजेक्टर, टीवी, लैपटॉप, कम्प्यूटर के माध्यम से रैली का प्रसारण होगा। कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष तथा प्रदेश के राजस्व मंत्री बालासाहब थोरात ने यह जानकारी दी। बुधवार को थोरात ने रैली की तैयारी को लेकर कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी एच. के. पाटील के साथ राज्य अतिथिगृह सह्याद्री में बैठक की। थोरात ने कहा कि केंद्र सरकार के कृषि और मजदूरों से संबंधित काले कानून से किसान और मजदूर बर्बाद हो जाएंगे। केंद्र सरकार इस कानून के जरिए किसानों और मजदूरों को उद्योगपतियों का गुलाम बनना चाहती है। इसलिए इसके विरोध में रैली का आयोजन किया गया है।

थोरात ने बताया कि कांग्रेस की अहमदनगर के संगमनेर की मुख्य रैली में पार्टी के प्रदेश प्रभारी पाटील, राज्य के पीडब्लूडी मंत्री अशोकराव चव्हाण, सांसद राजीव सातव समेत कई नेता मौजूद रहेंगे।

नागपुर में प्रदेश के ऊर्जा मंत्री नितीन राऊत, राज्य के पशुसंवर्धन व दुग्धविकास मंत्री सुनील केदार, प्रदेश के मदद व पुनवर्सन मंत्री विजय वडेट्टीवार उपस्थित रहेंगे। अमरावती में रैली का नेतृत्व प्रदेश की महिला व बाल विकास मंत्री यशोमती ठाकुर करेंगी।

औरंगाबाद में प्रदेश के चिकित्सा शिक्षा मंत्री अमित देशमुख मौजूद रहेंगे।

कोल्हापुर में प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री पृथ्वीराज चव्हाण और गृह राज्य मंत्री सतेज पाटील और कृषि राज्य मंत्री डॉ. विश्वजीत कदम उपस्थित रहेंगे। वहीं कोंकण विभाग में कांग्रेस के प्रदेश कार्याध्यक्ष मुजफ्फर हुसैन उपस्थित रहेंगे। 

कमेंट करें
T0YR3