comScore

महाराष्ट्र के 20 जिलों में कोरोना नियंत्रण से बदलेगी तस्वीर - मोदी

महाराष्ट्र के 20 जिलों में कोरोना नियंत्रण से बदलेगी तस्वीर - मोदी

डिजिटल डेस्क, मुंबई। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि महाराष्ट्र के लोग मुश्किलों का बहादुरी से सामना करते हैं। महाराष्ट्र में कोरोना प्रभावित 20 जिलों में विशेष समर्पित दस्ता नियुक्त कर संक्रमण के प्रभाव को कम किया गया, तो इसका परिणाम देश के कोरोना के आंकड़ों पर पड़ेगा। बुधवार को प्रधानमंत्री ने 7 राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए कोरोना संकट की स्थिति की समीक्षा की। बैठक में मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने प्रधानमंत्री से कहा कि आप अपने स्तर पर एक बार फिर से देश के नागरिकों को संबोधित कर बताए कि आगामी समय में कोरोना की लड़ाई कैसे लड़नी चाहिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि आने वाले समय में कई त्यौहार और उत्सव हैं। इस दौरान कोरोना बढ़ने न देने की बड़ी चुनौती है। ग्रामीण इलाकों में सभी जगह पर टेलीआईसीयू और पोस्ट कोविड उपचार केंद्र बनाए जाएंगे। बैठक के दौरान मुख्यमंत्री ने मास्क पहनने के लिए चश्मे का उदाहरण दिया। मुख्यमंत्री ने कहा कि शुरुआत के समय चश्मा पहनने में लोगों को मुश्किल हो रही थी लेकिन अब चश्मा पहनना आदत बन चुका है। इससे अब परेशानी नहीं होती है। इस पर प्रधानमंत्री ने कहा कि उद्धवजी ने सही उदाहरण दिया है। हमें मास्क पहनने की आदत डालनी पड़ेगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि विदर्भ में बाढ़ प्रभावितों को मदद के लिए 16 करोड़ 48 लाख 25 हजार रुपए निधि मंजूर दी गई है। उन्होंने कहा कि राज्य में अंतिम वर्ष की परीक्षाएं 31 अक्टूबर तक पूरी की जाएंगी। उन्होंने कहा कि पर्यटन को गति देने के लिए कारोबारी सुगमता के तहत होटेल खोलने के लिए लाइसेंस की संख्या को कम करने का प्रयास है। मुख्यमंत्री ने बताया कि अनलॉक के बाद राज्य में 95 प्रतिशत उद्योग शुरू हो चुके हैं। महाजॉब्स द्वारा छह हजार लोगों को नौकरी उपलब्ध कराई गई है।

अभियान के जरिए मिले 4824 कोरोना के मरीज

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में स्वास्थ्य विभाग के 'मेरा परिवार, मेरी जिम्मेदारी' अभियान के लिए 55 हजार टीम तैयार की गई है। इस अभियान के जरिए घर-घर जाकर लोगों की स्वास्थ्य जांच में 4824 कोरोना संक्रमित व्यक्ति मिले हैं। जबकि 7 लाख 54 हजार ऐसे लोग मिले जिन्हें डायबिटीज, ब्लड प्रेशर समेत अन्य तरह की बीमारियां हैं। मुख्यमंत्री ने बताया कि अभियान के तहत अभी तक स्वास्थ्य विभाग की टीम 70 लाख 75 हजार 782  घरों (26 प्रतिशत घर ) तक पहुंची है। 2.83 लाख 63 हजार (18 प्रतिशत) लोगों का स्वास्थ्य सर्वेक्षण किया गया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में मेरा परिवार, मेरी जिम्मेदारी अभियान के माध्यम से कोरोना के खिलाफ लड़ाई अधिक आक्रामक रूप से लड़ी जा रही है। इससे आने वाले समय में मृत्यु दर और कोरोना संक्रमितों की संख्या में कमी आएगी।  

उत्सव सादगी से मनाएं

मुख्यमंत्री ने 17 से 25 अक्टूबर के बीच आने वाले नवरात्र, दूर्गापूजा, विजयादशमी त्यौहार सादगी से मनाने का आह्वान किया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि गणेश उत्सव की तरह इन त्यौहारों में भी सभी लोग सहयोग करें। जिससे कोरोना का प्रसार रोका जा सके।

कमेंट करें
y76hB