दैनिक भास्कर हिंदी: कोरोना वैक्सीनेशन - स्वास्थ्य कर्मियों को टीका लगवाने 3 फरवरी को मिलेगा एक और मौका, विभाग तैयार कर रहा सूची

February 2nd, 2021

मॉप-अप राउंड में हितग्राही बढ़े तो बढ़ेगा एक और दिन
डिजिटल डेस्क जबलपुर ।
कोरोना टीकाकरण के प्रथम चरण में जो स्वास्थ्य कर्मी किन्हीं कारणों से वैक्सीन नहीं लगवा सके, उन्हें स्वास्थ्य विभाग द्वारा मॉप-अप राउंड के माध्यम से टीका लगवाने का एक अंतिम मौका दिया जा रहा है। स्वास्थ्य विभाग द्वारा इसके लिए ऐसे स्वास्थ्य कर्मियों की सूची तैयार की जा रही है, जो टीका लगवाने की इच्छा रखते हुए भी किन्हीं कारणों से टीका नहीं लगवा पाए। ऐसे स्वास्थ्य कर्मी जो बार-बार सूचना देने पर भी नहीं पहुँचे, उनका नाम अब लिस्ट से अलग किया जा रहा है। इसके अलावा ऐसे डॉक्टर्स और हैल्थ वर्कर्स के नाम भी छाँटे जा रहे हैं, जो एक साथ एक से अधिक संस्थाओं में सेवा दे रहे हैं। इस वजह से उनका नाम अलग-अलग जगहों से पंजीकृत हो गया। अब इस डुप्लीकेसी को भी क्लियर किया जा रहा है। जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ. एसएस दाहिया ने बताया कि सूची तैयार होने के बाद 3 फरवरी को मॉप-अप राउंड होगा। अगर हितग्राहियों की संख्या बढ़ेगी तो 4 फरवरी को बचे हुए लोगों को टीका लगेगा। उल्लेखनीय है कि जिले में अब तक लगभग 16 हजार स्वास्थ्य कर्मियों को कोरोना वैक्सीन का पहला डोज दिया जा चुका है। 
3 विशेषज्ञों की टीम करेगी अस्पताल का निरीक्षण  
 प्रदेश सरकार की ओर से प्रतिवर्ष प्रदान किए जाने वाले कायाकल्प अवॉर्ड के लिए आज जिला अस्पताल विक्टोरिया का फाइनल असेसमेंट होगा। वहीं कल बुधवार को रानी दुर्गावती अस्पताल का असेसमेंट किया जाएगा। इसके लिए 3 सदस्यीय टीम का आगमन हो रहा है, जिसमें जिला चिकित्सालय अनूपपुर से सिविल सर्जन डॉ. एसके राय व डॉ. विजय भान,  जिला चिकित्सालय पन्ना से डॉ. श्वेता पांडे शामिल हैं। टीम सुबह 9 बजे से असेसमेंट शुरू करेगी। कायाकल्प अवॉर्ड के लिए सात सेक्टर चिन्हित हैं। इसमें अधिकतम छह सौ अंक हैं। बेहतर प्रदर्शन करने वाले अस्पतालों को पुरस्कार के साथ विकास कार्यों के लिए अतिरिक्त अनुदान प्राप्त होता है। 
 

खबरें और भी हैं...