दैनिक भास्कर हिंदी: वडेट्टीवार बोले - समझ नहीं सके. जनता हमें सौंपना चाहती थी सत्ता

October 26th, 2019

डिजिटल डेस्क, मुंबई। महाराष्ट्र में उम्मीद से बेहतर प्रदर्शन के बाद अब कांग्रेस पार्टी को भी एहसास हो गया है कि वह आम लोगों में चल रही सरकार विरोधी भावना को नहीं भांप सकी। विधानसभा में विपक्ष के नेता विजय वडेट्टीवार ने कहा कि राज्य की जनता कांग्रेस गठबंधन को सत्ता सौंपना चाहती थी लेकिन हम यह समझ नहीं पाए। जनता से मिले समर्थन के लिए हम उसे धन्यवाद देते हैं। साथ ही उन्होंने कहा कि लोगों ने भाजपा को सत्ता से बाहर रखने के लिए मतदान किया है। शनिवार को पत्रकारों से बातचीत में वडेट्टीवार ने कहा कि किसान, मजदूर और बेरोजगार सरकार से नाराज थे। भाजपा सरकार ने राज्य को गड्ढे में डाल दिया। लोगों ने अब दिखा दिया है कि सत्ता का इस्तेमाल लोगों के हित के लिए करना चाहिए उन्हें खत्म करने के लिए नहीं। राज्य की जनता ने सत्ता की गर्मी उतार दी है। लोगों को लगने लगा है कि राज्य उनके नेतृत्व में प्रगति नहीं कर पाएगा। बिना संसाधनों के हम चुनावी लड़ाई में उतरे लेकिन लोग हमारे साथ थे। भाजपा को सत्ता में रहने का अधिकार नहीं है। कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ता होने के नाते मैं कहूंगा कि लोग कल का महाराष्ट्र भाजपा मुक्त महाराष्ट्र चाहते हैं। भाजपा को भी अब सत्ता में रहने का अधिकार नहीं है। हमारे ही कुछ लोगों ने सत्ता का लालच दिखाया और भाजपा के साथ चले गए। हमने बेहतर रणनीति बनाई होती और मजबूती से चुनाव लड़ा होता तो राज्य में हमारी सत्ता होती। भाजपा ने ईडी का इस्तेमाल करते हुए हम पर दबाव डालने की कोशिश की। हमारी भूमिका विपक्षी पार्टी की है लेकिन अगर भाजपा को रोकना है तो सभी पार्टियों को एकजुट होना होगा।   

शिवसेना से अभी बातचीत नहीं

वडेट्टीवार ने कहा कि सत्ता समीकरण बनाने के लिए शिवसेना को आगे आना चाहिए लेकिन अभी हमारी पार्टी की शिवसेना से कोई बातचीत नहीं हुई है। लेकिन शिवसेना को पहल करनी चाहिए। उन्होंने माना कि अगर प्रकाश आंबेडकर साथ होते तो नजारा कुछ अलग होता। वडेट्टीवार ने कहा कि भाजपा ने हर चुनाव क्षेत्र में 10 करोड़ रुपए बांटे। उन्होंने कहा कि उत्तर महाराष्ट्र की जनता ने गिरीश महाजन को उनकी जगह दिखा दी है। 
 

खबरें और भी हैं...