comScore

नाशिक में चल रही है देश की पहली अन्को सर्जनों की दो दिवसीय संगोष्ठी

नाशिक में चल रही है देश की पहली अन्को सर्जनों की दो दिवसीय संगोष्ठी

डिजिटल डेस्क, नागपुर। नागपुर कैन्सर पिड़ितों पर होने वाली ओपन सर्जरी के दुष्परिणामों को टालने के लिए और इसमें सुधार करने के लिए देश में पहली कैन्सर शल्य क्रिया विशेषज्ञों संगोष्ठी का आयोजन किया गया है। इसमें देश के 300 विशेषज्ञ शामिल होंगे। यह संगोष्ठी 18 और 19 मई को शहर के एचसीजी मानवता कैन्सर सेंटर में होगी। इस दौरान सभी विशेषज्ञ मरीजों पर होनेवाली ओपन सर्जरी को बंद करते हुए रोबोटीक तथा लैप्रोस्कोपी सर्जरी की ओर बढ़ने की ओर मंथन करेंगे। इससे मरीजों की आयु बढ़ाने में मदद होगी। अंतराष्ट्रीय कैन्सर विशेषज्ञ डा. रणजीत नगर ने बताया कि, इस दौरान इंडियन इन्स्टिटयूट ऑफ ऑनकॉलॉजि, मुंबई के संचालन डॉ. आर के देशपांडे, ऑब्जर्व्हर एमएमसी डॉ. राजेंद्र कुलकर्णी, आयएएसओ के अध्यक्ष डॉ. धैर्यसाहिल सावंत, एबीएस के सचिव डॉ अशोक बीसी, सर्जिकल सोसायटी के अध्यक्ष डॉ. महेश मालू, द ओबस्टेट्रिक अँड गायनॉकॉलॉजिकल सोसायटी की अध्यक्ष डॉ. नलिनी बागूल, ऑटोलॅरिंजोलॉजिस्ट ऑफ इंडिया, असोसिएशन के डॉ. मुकेश मोरे उपस्थित रहेंगे और मार्गदर्शन करेंगे। सीर, गर्दन, स्तन, थोरॅसिक, गायनॉकॉलॉजी, गॅस्ट्रोइंटेस्टिनल, यूरोलॉजी, हड्‌डीया और सॉफ्ट टिश्यू तथा रिकन्स्ट्रुक्टिव्ह सर्जरी को लेकर नई तकनिक पर चर्चा होगी।

कमेंट करें
43ZPF