दैनिक भास्कर हिंदी: Crime : 17 लाख की डकैती में दो आरोपी भंडारा से गिरफ्तार, युवती समेत तीन लोगों की फांसी लगाने से मौत

June 21st, 2020

डिजिटल डेस्क, नागपुर। अपराध शाखा की टीम भंडारा से दो आरोपियों को गिरफ्तार कर ले आई है। आरोपी 17 लाख की डकैती में लिप्त बताए गए हैं। उन्हें बर्डी पुलिस को सौंप दिया गया है। आरोपी संदीप उर्फ सूरज धीरज हिरणवार (24) धरमपेठ और उसका साथी सौरभ उर्फ मुन्ना प्रवीण कालसर्पे (26) काचिपुरा निवासी हैं। कुछ समय पूर्व बर्डी थानांतर्गत बैंक में रुपए जमा करने जा रहे एक व्यक्ति को निशाना बनाया गया था। आरोपियों ने अपने साथियों की मदद से उससे 17 लाख रुपए लूट लिए थे। इस मामले में कुछ आरोपियों को पहले गिरफ्तार किया जा चुका है, लेकिन संदीप और सौरभ फरार थे। शनिवार को भंडारा से उन्हें गिरफ्तार किया गया है। 

डकैती डालने निकले चार आरोपी गिरफ्तार, एक फरार

उधर आरोपियों की खोजबीन में निकले इमामवाड़ा थाने के डीबी स्क्वॉड ने डकैती डालने के लिए निकले चार आरोपियों को धरदबोचा। एक आरोपी भागने में सफल हो गया। इनमें एक आरोपी तड़ीपार है। अन्य आरोपियों पर भी आपराधिक मामले दर्ज हैं। पुलिस सूत्रों के अनुसार डीबी स्क्वॉड के सहायक पुलिस निरीक्षक कदम सहयोगियों के साथ 19 जून को देर रात करीब 1.30 बजे गश्त पर निकले। उन्हें गुप्त सूचना मिली कि, बैद्यनाथ चौक, कुसुमगार शो-रूम की गली में कुछ लोग घातक शस्त्रों के साथ किसी वारदात को अंजाम देने की तैयारी में हैं। हरकत में आई पुलिस ने मौके पर पहुंचकर घेराबंदी की और आरोपी पंकज रामकिशन शाहू, रामबाग, अमोल भीमराव हाडके, इमामवाड़ा,  अमित गोपाल पाटील, रामबाग,  रोहित विक्की खोब्रागड़े,  रामबाग  निवासी को गिरफ्तार किया। आरोपी प्रणय उर्फ बंड्या चव्हाण,  रामबाग निवासी अंधेरे का लाभ उठाकर फरार हो गया। आरोपियों से घातक शस्त्र व नगदी सहित 880 रुपए का माल जब्त किया गया है।

आरपीएफ ने जब्त किया 240 किलोग्राम तंबाकू

वहीं रेलवे के पार्सल कार्यालय  से आरपीएफ ने 6 पैकेट में 240 किलो सुगंधित तंबाकू जब्त कर एक पार्सल एजेंट को गिरफ्तार किया है। यह पार्सल दिल्ली से मंगाया गया है। मिली जानकारी के अनुसार शुक्रवार को ट्रेन नं. 02724 तेलंगाना एक्सप्रेस से नई दिल्ली से नागपुर 6 बड़े पार्सल उतारे गए। पार्सल में सुगधित तंबाकू होने से पार्सल क्लर्क अमित मधुरकर वायकर ने आरपीएफ को सूचित किया। जानकारी मिलने के बाद सहा. उप निरीक्षक रामनिवास यादव ने जांच-पड़ताल के बाद सभी पैकेटों को जब्त कर लिया। पंचनामा करने के बाद पैकटों का वजन किया गया, तो कुल 240 किलो का माल निकला। तंबाकू की कीमत लगभग 24,600 रुपए बताई गई  है। रेल अधिनियम की धारा 163 के तहत अपराध पंजीकृत किया गया है। शनिवार को जांच के दौरान पार्सल कार्यालय के पास पार्सल एजेंट विजय संताराम उपदेशे (42) निवासी आंबेडकर कॉलोनी लष्करी बाग को गिरफ्तार किया गया। प्रकरण की जांच मंडल सुरक्षा अायुक्त आशुतोष पांडे के मार्गदर्शन में की जा रही है।

युवती समेत तीन लोगों की फांसी लगाने से मौत

इसके अलावा शहर में विविध स्थानों पर फांसी लगाने से युवती समेत तीन लोगों की मौत हो गई। कारण अज्ञात है। एमआईडीसी, पांचपावली और कपिल नगर थाने में शनिवार को आकस्मिक मृत्यु के प्रकरण दर्ज किए गए। रड़के ले-आउट निवासी ज्योति विक्रम नायर उर्फ म्हात्रे (28), निजी प्रतिष्ठान में कार्यरत थी। शुक्रवार और शनिवार की दरमियानी रात ज्योति ने छत में लगे लोहे के एंगल को दुपट्टा बांधकर फांसी लगाई। उसकी मौत हो गई। मिलिंद नगर निवासी वीरेंद्र गोविंदवार (40) नामक व्यक्ति व्यापारी था। वह शराब का आदी था। परिवार के सदस्यों ने उसे नशा मुक्ति केंद्र में दाखिल कराया था, बावजूद वीरेंद्र में कोई सुधार नहीं हुआ। उस पर कर्ज भी था। रात में उसने भी बाथरूम की खिड़की को रस्सी बांधकर फांसी लगाई। उसकी भी मौत हो गई। तीसरी घटना गायकवाड़ ले-आउट में हुई। एकनाथ सहारे (60) ऑटोरिक्शा चालक था। उसने भी फांसी लगाकर आत्महत्या की। 

चाकू लेकर उत्पात मचा रहे व्यक्ति को युवक ने दबोचा

वहीं एक व्यक्ति ने जान पर खेलकर चाकू लेकर उत्पात मचा रहे एक व्यक्ति को दबोच लिया और उसे पुलिस के हवाले कर दिया। नई कामठी थाने में प्रकरण दर्ज किया गया है। आरोपी के कब्जे से चाकू जब्त िकया गया है। कामठी रोड स्थित रनाला में गुरुवार को आरोपी सूरज अशोक धाेटे लोगों को गाली-गलौज कर चाकू की नोंक पर उत्पात मचा रहा था। उसे उसी बस्ती में ही रहने वाले रणजीत लोणारे (35) नामक युवक ने कुछ देर हाथापाई के बाद दबोच लिया। इस बीच पुलिस गश्ती दल वहां आ पहुंचा। सूरज से चाकू छीनकर उसे थाने ले जाया गया। 

कंपनी प्रबंधक के घर में चोरी

उधर सक्करदरा क्षेत्र में एक मकान का सेंट्रल लॉक तोड़कर अज्ञात चोर गहने व नकदी सहित करीब 2 लाख 32 हजार रुपए का माल चुरा ले गए। पुलिस सूत्रों के अनुसार 19 जून को क्वार्टर नं.-2/135, रघुजी नगर पोस्ट ऑफिस के पास नागपुर निवासी कुणाल विनायकराव गाढ़वे (36) एक कंपनी में प्रबंधक हैं। कुणाल काम पर गए थे। पत्नी व पिता विनायकराव गाढ़वे (73) बैंक ऑफ इंडिया, रेशिमबाग में अकाउंट खोलने गए थे। जाते समय पत्नी मुख्य दरवाजे का सेफ्टी लॉक और ताला बंद कर लोहे का गेट लगाकर गई  थी। इस दौरान अज्ञात चोर मकान के मुख्य दरवाजे का ताला व सेफ्टी लॉक तोड़कर मकान में प्रवेश किया और अलमारी के दो लॉकर में से सोने-चांदी के गहने व नकद 95,000 रुपए सहित करीब 2,32,000 रुपए का माल चुरा ले गया। कुणाल की पत्नी और पिता बैंक से वापस घर लौटने पर उन्हें चोरी की बात पता चली।

कीचड़ उड़ने पर वाहन चालक की हत्या का प्रयास

वहीं कीचड़ उड़ने पर हुए विवाद में दो अज्ञात लोगों ने एक मालवाहक वाहन चालक की शस्त्र से हमला कर हत्या करने का प्रयास किया। घायल मोहित अरविंद ठाकरे (32) को मेडिकल अस्पताल में भर्ती कराया गया है। वाठोड़ा पुलिस ने दोनों अज्ञात आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। पुलिस सूत्रों के अनुसार गंगानगर निवासी मोहित ठाकरे 19 जून को अपने मालवाहक  वाहन क्र.-एम.एच.-40-ए.के.-7536 में फर्नीचर लादने जा रहा था। गरीब नवाज चौक में सेलिब्रेशन हॉल के सामने दोपहिया वाहन क्र.-एम.एच.-49-बी.एच.-2886 पर सवार 35-40 वर्ष  के दो अज्ञात आरोपियों ने कीचड़ उड़ने की बात को लेकर मोहित से विवाद किया और गाली-गलौज करते हुए घातक शस्त्र से मोहित पर वार कर उसे गंभीर जख्मी कर दिया और फरार हो गए। नागरिकों ने घायल मोहित को मेडिकल अस्पताल पहुंचाया। अस्पताल में मोहित का बयान लेने के बाद पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ धारा 307,34 के तहत मामला दर्ज किया।

11695 रु. के ई-टिकट सहित आरोपी पकड़ा गया

दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे के नागपुर मंडल के आरपीएफ बल ने शनिवार को गुप्त सूचना के आधार पर ई-टिकट बनाने वाले दलालों के विरुद्ध अभियान चलाया गया। जिसमें कलमना थाना अंतर्गत नेताजी सुभाष नगर निवासी अजहर शकील खान (21) के घर तलाशी ली गई। इस दौरान अजहर के घर से व्यक्तिगत आई-डी और मेल आईडी से अवैध रूप से बनें 11,695 रुपए के नौ ई-टिकट मिले। साथ ही पुराने 152 नग टिकट की जानकारी भी मिली। 12,000 का 1 मोबाइल व 600 रुपए नगद जब्त किए गए। आरोपी के विरुद्ध रेलवे सुरक्षा बल सेटलमेंट पोस्ट मोतीबाग में रेल अधिनियम की धारा 143  के तहत प्रकरण दर्ज किया गया। इस प्रकरण में कुल 24,295 रुपए का माल जब्त किया गया। मामले की जांच उप-निरीक्षक  बी.के. सिंह कर रहे हैं। कार्रवाई मंडल सुरक्षा आयुक्त ए.के. स्वामी के मार्गदर्शन मेें थाना प्रभारी जी.ए. गरकल के नेतृत्व में की गई।

ऑनलाइन फर्नीचर बेचना महंगा पड़ा

सरकारी विभाग में कार्यरत एक व्यक्ति को पुराना फर्नीचर ऑनलाइन बेचना महंगा पड़ गया। आरोपी ने क्यूआर कोड स्कैन करने का झांसा देकर उसके खाते से ऑनलाइन 98 हजार 888 रुपए उड़ा दिए। आरोपी के खिलाफ गिट्टीखदान थाने में प्रकरण दर्ज किया गया है। सीपीडब्ल्यूडी कालोनी निवासी शायन शामल काहली (32) सरकारी विभाग में कार्यरत है। शायन ने ऑनलाइन बिक्री के लिए अपने पुराने फर्नीचर की ओएलएक्स पर फोटो डाली थी और खुद का मोबाइल नंबर भी दिया था। 29 अप्रैल को दोपहर में शायन को एक व्यक्ति का फोन आया। फोनकर्ता ने खुद को नागपुर निवासी बताते हुए फर्नीचर खरीदने की इच्छा जताई और ऑनलाइन पेमेंट करने के लिए शायन को क्यूआर कोड स्कैन करने के लिए कहा था। शायन ने ऐसा करते ही उसके खाते से 98 हजार 888 रुपए की रकम निकाल ली गई। शनिवार को मामले में शिकायत दर्ज की गई है। बरामद मोबाइल नंबर के आधार पर साइबर सेल आरोपी की तलाश कर रही है। 

ट्रक से दबकर मजदूर की मौत

वेकोलि की कामठी कॉलरी खुली कोयला खदान के स्टोर में ट्रक क्र.-एम.एच.-49-ए.टी.-1586 से सिल्लेवाड़ा स्टोर से लाया गया सामान शनिवार को सुबह लगभग 8 बजे दो ठेकाकर्मी खाली कर रहे थे। स्टोर के सामने ट्रक लगाते समय सत्रापुर निवासी महेशभाऊ दास पात्रे पीछे खड़ा होकर चालक को साइड बता रहा था। अचानक ट्रक की चपेट में आ जाने से महेश घायल हो गया। जख्मी हालत में उसे कामठी के एक निजी अस्पताल में ले गए, जहां उपचार के दौरान महेश की मौत हो गई। घटना के बाद क्षेत्र में कुछ देर के लिए तनाव का माहौल बन गया था। कन्हान पुलिस ने विजय पात्रे की शिकायत पर ट्रक चालक रामचरित्र विश्वकर्मा के खिलाफ भादंवि की धारा 279, 338, 304 अ के तहत मामला दर्ज किया। इस बीच मृतक के परिजनों को आर्थिक मुआवजा देने की मांग को लेकर कन्हान पुलिस स्टेशन में नागरिक एकत्रित हो गए। विधायक आशीष जैस्वाल, नगराध्यक्ष करुणा आष्टनकर, पार्षद मोनिका गजभिए, डैनियल शेंडे, थानेदार अरुण त्रिपाठी उपस्थित थे। वेकोलि की ओर से सहप्रबंधक मनोज त्रिपाठी से बातचीत के बाद प्रबंधन की ओर से मृतक की पत्नी ज्योति पात्रे को 1 लाख रुपए नकद मुआवजा दिया गया। साथ ही सोमवार, 22 जून को दोबारा 1 लाख रुपए देने का आश्वासन दिया गया। नियमों के तहत 15 लाख की मदद करने का आश्वासन देने के बाद भीड़ शांत हुई तथा महेश का अंतिम संस्कार किया गया।