यूक्रेन के भीषण हालातों में घिरी सुनिधि घरलौट आई: बॉर्डर पार करना भी एक युद्ध लडऩे जैसा

March 2nd, 2022

डिजिटल डेस्क जबलपुर। यूक्रेन के भीषण हालातों में घिरी सुनिधि भी बुधवार को अपने घर लौट आई। एयरपोर्ट पहुंचे पिता को दूर से जैसे ही सुनिधि नजर आई, उनकी आँखें बरस पड़ीं। दोनों को संभालने की हिम्मत वहां मौजूद किसी में भी नजर नहीं आई। थोड़ी देर बाद खुशी के आँसू थम गए और दोनों के चेहरे में अजीब सी मुस्कान दौडऩे लगी।
यूक्रेन के हालातों पर सुनिधि ने बताया कि वहां बॉर्डर क्रॉस करना भी अपने आप में किसी युद्ध जीतने जैसा है। अब तक जो दिखाया और बताया गया हालात उससे कहीं ज्यादा भीषण हैं। सुनिधि के पिता ने सांसद विष्णु दत्त शर्मा की ओर से किए गए प्रयासों को खूब सराहा।
दृढ़ता और साहस का मेल-
सुनिधि के स्वागत के लिए एयरपोर्ट पहुंचे भाजयुमो के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष डॉ. अभिलाष पांडे ने कहा कि केंद्रीय सरकार जितनी दृढ़ है उतनी साहसी भी। इससे देश के युवाओं के मन में प्रधानमंत्री के प्रति मान बढ़ा है। इस दौरान व्यापारी प्रकोष्ठ के प्रदेश संयोजक शरद अग्रवाल, प्रशांत तिवारी, कुंडल राव, हरीश ठाकुर आदि मौजूद रहे।