दैनिक भास्कर हिंदी: शारजाह से लकर आए थे सोना, मुंबई जाने के पहले ही कस्टम विभाग ने दबोचा

May 8th, 2019

डिजिटल डेस्क, नागपुर। कस्टम विभाग ने नागपुर एयरपोर्ट पर शारजाह से आए दो लोगों को 25 लाख के सोना के साथ पकड़ा। दोनों को उस वक्त पकड़ा गया, जब वे फ्लाइट से मुंबई जाने की तैयारी में थे। कस्टम विभाग ने इन्हें मदद करने वाले एक शख्स को भी हिरासत में लिया है। 25 लाख का सोना जब्त कर तीनों से पूछताछ चल रही है। 

निकर में छिपा रखा था सोना
प्राप्त जानकारी के अनुसार, कस्टम विभाग को शारजाह से आ रही एयर अरेबिया (जी 9- 416) की फ्लाइट से दो लोगों के सोना लेकर आने की सूचना मिली। एयर अरेबिया का फ्लाइट तड़के 4.10 बजे नागपुर लैंड हुआ। कस्टम के अधिकारियों ने फ्लाइट से बाहर आए यात्रियों में से एक को सोने के साथ पकड़ा। इसका दूसरा साथी मुंबई जाने वाली दूसरी फ्लाइट में चढ़ रहा था, तभी उसे भी दबोच लिया गया। तलाशी लेने पर उसके पास भी सोना मिला। दोनों ने सोना निकर में छिपाकर रखा था। इनका तीसरा साथी (मुंबई का शफीक) एयरपोर्ट परिसर में ही मुंबई का टिकट लेकर टहल रहा था। उसे भी हिरासत में लिया गया है। हालांकि उसके पास सोना नहीं मिला। कस्टम ने मुंबई के अब्दुल रहमान, तमिलनाडु स्थित तिरुणवेली के दीवान सैयद इस्माइल को सोने के साथ पकड़ा। दोनों के पास से करीब 25 लाख मूल्य का सोना मिला। सोना जब्त कर शाम तक तीनों से पूछताछ जारी थी। 

20 लाख से कम का सोना हो तो पुलिस में नहीं जाता मामला 
एक व्यक्ति के पास 20 लाख से कम मूल्य का सोना मिला तो पुलिस में मामला दर्ज नहीं होता। दोनों द्वारा 20-20 लाख से कम मूल्य का सोना लाने से यह मामला भी सोनेगांव पुलिस थाना नहीं पहुंचा। कस्टम विभाग सरकार से अनुमति लेकर जब्त सोने की नीलामी करेगा। कस्टम की नजर में दोनों आरोपी हैं। पूछताछ के बाद दोनों पर केस बनेगा और मामला कोर्ट में जाएगा। पुलिस या न्यायिक कस्टडी नहीं मिल पाती, इसी का फायदा उठाकर मुंबई से नागपुर तक फैला गिरोह सोने की तस्करी में लगा हुआ है। 

तीनों नागपुर से जा रहे थे मुंबई
कस्टम के हाथ लगे दो आरोपी व उनका एक मददगार, तीनों नागपुर से फ्लाइट से मुंबई जाने की तैयारी में थे। इंटरनेशनल फ्लाइट से आए यात्रियों की चेकिंग कस्टम अधिकारी करते है। वहीं, डोमेस्टिक (घरेलू) फ्लाइट से आए यात्रियों की चेकिंग कस्टम के अधिकारी नहीं करते। इस तरह नियम-कानून का सहारा लेकर बड़ी आसानी से तस्कर अपना काम कर जाते हैं। नागपुर के कई कारोबारी प्रत्यक्ष-अप्रत्यक्ष रूप से विदेश से सोने की खेप लाते रहते हैं। 

कई बार किया ‌विदेशों का टूर 
सोने की तस्करी के आरोप में कस्टम के हाथ अब तक जो लोग लगे, उन्होंने कई बार विदेश की यात्रा की है। पासपोर्ट से इसका खुलासा भी हुआ, लेकिन बार-बार विदेश क्यों व किस लिए जाते हैं, इसकी गहराई तक कस्टम पहुंच नहीं पाता। बार-बार विदेश जाने वाले कई बार विदेश से लाई गई महंगी चीजें भी कस्टम अधिकारियों को गिफ्ट में देने की कोशिश करते हैं। इसका खुलासा तब हुआ था, जब एक मामले में आरोपी के सीडीआर में कस्टम अधिकारियों के नंबर मिले थे।