दैनिक भास्कर हिंदी: हरियाणा के मराठा युवाओं को मराठा लाइट इन्फेंट्री में भर्ती करने की मांग, आरक्षण के खिलाफ याचिका पर 18 तक जवाब तलब

January 14th, 2019

डिजिटल डेस्क, मुंबई। मराठा आरक्षण के खिलाफ बांबे हाईकोर्ट में दायर याचिका को लेकर अदालत ने राज्य सरकार को जवाब देने के लिए और समय देने से इंकार कर दिया है। सोमवार को बेंच ने कहा कि राज्य सरकार 18 जनवरी तक अपना हलफनामा दायर करे। राज्य सरकार ने 21 जनवरी तक का समय मांगा था।जस्टिस रणजीत मोरे ने कहा कि राज्य सरकार को अपना जवाब दाखिल करने के लिए काफी पहले निर्देश दिया गया था। इस लिए हलफनामा दाखिल करने के लिए राज्य सरकार के पास काफी समय था, अब और समय नहीं दिया जा सकता। शुक्रवार तक राज्य सरकारल अपना जवाब दाखिल करे।

इसके पहले हाईकोर्ट ने 11 जनवरी तक राज्य सरकार को जवाब दाखिल करने का निर्देश दिया था। गौरतलब है कि अधिवक्ता गुणरत्न सदावर्ते ने हाईकोर्ट में दाखिल जनहित याचिका के जरिये मराठा समुदाय को नौकरी और शिक्षण संस्थानों में 16 प्रतिशत आरक्षण देने के सरकार के निर्णय को चुनौती दी है। उनकी याचिका में कहा गया है कि मराठा आरक्षण का नया कानून सुप्रीम कोर्ट के पूर्व में दिए गए निर्णय के खिलाफ है। सुप्रीम कोर्ट ने कहा था कि राज्य में जातिगत आरक्षण 50 फीसद से ज्यादा नहीं होना चाहिए। इसके पहले अदालत ने मराठा आरक्षण पर रोक लगाने से इंकार कर दिया था।   

हरियाणा के मराठा युवाओं को मराठा लाइट इन्फेंट्री में भर्ती कराए जाने की मांग
उधर नई दिल्ली में महाराष्ट्र से राज्यसभा सांसद छत्रपति संभाजी राजे ने हरियाणा के कुछ जिलों में बसे मराठाओं को भी महाराष्ट्र के मराठाओं के समान मानकर उन्हें मराठा लाइट इन्फेंट्री में भर्ती कराए जाने की मांग की है। इस संबंध में सांसद राजे ने सोमवार को मराठा लाइट इन्फेंट्री के प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल पी जे एस पन्नू से मुलाकात की। सांसद राजे ने पी जे एस पन्नू को एक ज्ञापन भी सौंपा।

इसमें कहा गया है कि पानिपत की तीसरी लड़ाई में मराठाओं की हार हो गई, लेकिन उसके बाद युद्ध में बचे मराठा सैनिक कुछ कारणों से अपने वतन वापस नही लौट सके और वे वहीं हरियाणा में बस गए। आज हरियाणा के कर्नाल, जींद और पानिपत में इनकी संख्या 6 लाख के करीब हैं। इन्हे यहां रोड मराठा के नाम से जाना जाता है। उन्होंने पी जे एस पन्नू को कहा कि वर्षों से यहां के मराठा समुदाय के युवा महाराष्ट्र के मराठाओं के समान मानकर उन्हे मराठा लाइट इन्फेंट्री में भर्ती कराए जाने की मांग उठा रहे है। मराठा लाइट इन्फेंट्री के प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल से मुलाकात के बाद सांसद राजे ने कहा कि इस विषय को लेकर वे केन्द्रीय रक्षा राज्यमंत्री डॉ सुभाष भामरे से भी मिले।

सांसद राजे ने बताया कि पी जे एस पन्नू ने संबंधित मांग को गंभीरता से सुना और कहा कि इस संबंध में वे रक्षा मंत्रालय को प्रस्ताव भेजेंगे। वहां से सकारात्मक जवाब मिलने के बाद हरियाणा ही नही देश के अन्य राज्य में बसे मराठाओं को बी मराठा लाइट इन्फेंट्री में भर्ती कराया जा सकेगा।