दिशा कानून : नागपुर सत्र में विधेयक को मिलेगी मंजूरी

September 14th, 2021

डिजिटल डेस्क, मुंबई। महिलाओं के खिलाफ अपराध को रोकने संबंधी दिशा कानून के विधेयक को नागपुर में होने वाले महाराष्ट्र विधानमंडल के शीतकालीन सत्र में मंजूरी दी जाएगी। प्रदेश के गृह मंत्री दिलीप वलसे- पाटील ने यह जानकारी दी। सोमवार को मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की मौजूदगी में गृह विभाग की उच्चस्तरीय बैठक हुई। इस बैठक में गृह और पुलिस विभाग के वरिष्ठ अफसर मौजूद थे। बैठक में मुख्यमंत्री ने कहा कि साकीनाका दुष्कर्म घटना में रिक्शा के इस्तेमाल होने की बात सामने आई है। इसलिए रिक्शा के अनाधिकृत हस्तांतरण पर रोक लगाई जाए। संबंधित लाइसेंस धारक के बारे में स्थानीय पुलिस को जानकारी देना बंधनकारक किया जाए।

दूसरे राज्यों से आने वाले वाहनों पर भी ध्यान रखा जाए। उन्होंने कहा कि अपराधिक घटनाओं में जल्द गति न्यायालय में फैसला सुनाया जाता है, लेकिन अपराधियों को सजा दिलाने और अगली न्यायालयीन प्रक्रिया के बारे में संशोधन करने का प्रयास करें। मुख्यमंत्री ने कहा कि मंगलवार को नीति आयोग की बैठक में जल्द न्यायालय के कार्यप्रणाली के लिए नीतिगत सुधार के बारे में सुझाव दिया जाए। मुख्यमंत्री ने कहा कि दिशा कानून के तहत सुधार पर जोर दिया जाएगा। जबकि सरकार ने विधानसभा में दिशा कानून के विधेयक पेश किया था। यह विधेयक फिलहाल विधानमंडल की संयुक्त समिति के पास है। अब नागपुर के शीतकालीन सत्र में इस विधेयक को दोनों सदनों में मंजूर किया जाएगा। 

 

खबरें और भी हैं...