दैनिक भास्कर हिंदी: डॉ. राऊत ने कहा - जिले में कोई भूखा न रहे

May 17th, 2020

डिजिटल डेस्क, नागपुर। पालकमंत्री डा. नितीन राऊत ने सुनिश्चित करने को कहा है कि जिले में कोई भूखा न रहे। खाद्यान्न आपूर्ति विभाग इस ओर विशेष ध्यान दे। खाद्यान्न आपूर्ति विभाग की ओर से टेका, सदर व धंतोली जोन में गरीब, जरूरतमंद लोगों को राशन व जीवनावश्यक वस्तुओं की किट का वितरण पालकमंत्री ने किया। इस दौरान जिलाधीश रवींद्र ठाकरे, उपजिलाधीश हेमा बढे, खाद्यान्न आपूर्ति अधिकारी भास्कर तायडे, खाद्यान्न वितरण अधिकारी अनिल सवई प्रमुखता से उपस्थित थे। 

दी जा रही किट

खाद्यान्न आपूर्ति विभाग की ओर से जिनके पास राशन कार्ड नहीं है, ऐसे गरीब, जरूरतमंद व विकलांग लोंगो को गेहूं, चावल, दाल, तेल व अन्य जीवनावश्यक वस्तुओं की किट दी गई। विभाग की तरफ से शहर के हर जोन में जरूरतमंदों को राशन किट दी जा रही है। पहले चरण में 7 हजार 938 लोगों को किट देनी है, जिसमें अब तक 3 हजार 619 किट का वितरण किया गया है। डॉ. राऊत की पहल पर जरूरतमंद लोगों के लिए ललित कला भवन में कम्युनिटी किचन शुरू किया गया है।  इस किचन से भोजन के पैकेट वितरित किए जा रहे हैं।  जबसे लॉकडाउन शुरू हुआ है, तबसे जिले में सवा छह लाख लोगों को भोजन के पैकेट दिए गए हैं। कम्युनिटी किचन में 300 स्वयंसेवक सेवा दे रहे हैं। 

विप में उठाऊंगा व्यापारियों के मुद्दे

उधर महाराष्ट्र विधान परिषद में निर्विरोध चुने गए नवनिर्वाचित विधायक भारतीय जनता पार्टी महानगर अध्यक्ष प्रवीण दटके का  भाजपा व्यापारी आघाड़ी नागपुर अध्यक्ष संजय वाधवानी और प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजना नागपुर अध्यक्ष राकेश गांधी ने स्वागत कर बधाई दी। इस अवसर पर प्रमुखता से भाजपा व्यापारी आघाड़ी नागपुर महानगर महामंत्री अशोक शनिवारे, सचिन पुनियानी, रवि अग्रवाल, उमेश पटेल, भाजपा व्यापारी आघाड़ी नागपुर के वरिष्ठ उपाध्यक्ष लखीराम परसनानी, राजेश मुनियार, राहुल जैन, अनिल जैन, इंदरचंद बैदमुथा, पूर्व नागपुर अध्यक्ष श्याम बजाज, अभिषेक खेमानी, रियांक अग्रवाल, विश्वबंधु गुप्ता, विनय जैन आदि उपस्थित थे। प्रवीण दटके ने सभी का आभार माना और कहा कि जिस तरीके से कोरोना महामारी की विकट परिस्थिति में भाजपा व्यापारी आघाड़ी के पदाधिकारी जन सेवा कार्य में लगे हैं वह वाकई में सराहनीय है। उन्होंने आश्वासन दिया कि भविष्य में जब भी, जहां भी जिस समय व्यापारियों को उनकी आवश्यकता होंगी और ऐसा कोई मुद्दा रहेगा जिसे व्यापारियों के हित में विधान परिषद में उठाना आवश्यक होगा उसे अवश्य उठाएंगे और हर तरीके से व्यापारियों के सहयोग में खड़े रहेंगे।
 

खबरें और भी हैं...