दैनिक भास्कर हिंदी: सड़क पर मलबा : बदबू से सांस लेने में होती तकलीफ, यातायात बन गया सिरदर्द

April 14th, 2019

डिजिटल डेस्क, नागपुर। शनिवारी बाजार रोड, संतरा मार्केट परिसर में इन दिनों नाले की सफाई की जा रही है, लेकिन नाले से निकला मलबा कर्मचारी मार्ग किनारे ही छोड़ देते हैं। इससे परिसर में बदबू रहती है। लोगों का कहना है कि एक तरफ प्रशासन नाले की सफाई करवा रहा है, तो दूसरी तरफ लोगों की परेशानी भी बढ़ रही है। मलबा पड़ा रहने से मच्छर व मक्खियां हो रही हैं। आवागमन प्रभावित होने से हादसे हो रहे हैं। नागरिकों ने मलबा हटाने की मांग प्रशासन से की है। क्षेत्रवासियों ने बताया कि यहां नाले की सफाई होने के बाद से 10-15 दिन तक मलबा हटाया नहीं जाता है। नाले से निकली प्लास्टिक की पन्नियां भी यहीं फेंकी जा रही हैं। जिसे खाने से मवेशियों के स्वास्थ्य को खतरा हो रहा है। गाय, सुअर अन्य जानवर मलबे पर मंडराते रहते हैं। यहां सफाई अभियान चलाने की मांग जोर पकड़ रही है। 

मिली राहत...चेंबर को लगाया ढक्कन

उधर वाठोड़ा वाठोड़ा मुख्य मार्ग पर चेंबर खुला होने से लोगों को हादसा होने का डर सताता रहता था। दैनिक भास्कर में गत दिनों खबर प्रकाशित होते ही संबंधित विभाग जागा और चेंबर को ढक्कन लगवा दिया। नागरिकों ने बताया कि यहां साप्ताहिक बाजार लगता है। रोज की तुलना में बाजार के दिन लोगों की आवाजाही ज्यादा रहती है। मार्ग से सटकर बना चेंबर काफी दिन से खुला था। इस बारे में संबंधित विभाग में शिकायत भी की गई, लेकिन किसी ने ध्यान नहीं दिया। इस बारे में दैनिक भास्कर में खबर प्रकाशित होने के बाद प्रशासन जागा और चेंबर को ढक्कन लगवा दिया। इससे लोगों को राहत मिली है।  

शुरू नहीं हुआ सिग्नल यातायात बन गया सिरदर्द

टेलीफोन नगर चौक पर आए दिन सिग्नल बंद रहने से ट्रैफिक जाम रहता है। गत 27 मार्च को दैनिक भास्कर ने इस गंभीर समस्या को प्रकाशित कर इस ओर संबंधित विभाग का ध्यानाकर्षण किया था। फिर भी सिग्नल शुरू नहीं हुए हैं। इससे चौराहे की यातायात व्यवस्था चरमरा गई है। ऐसे में लोगों को आवागमन में परेशानी हो रही है। परिसरवासियों ने बताया कि क्षेत्र के मुख्य चौराहे के सिग्नल बंद हैं। यातायात पुलिस कर्मी भी तैनात नहीं रहते हैं। इसलिए यहां वाहन भी बेतरतीब चलते रहते हैं, जिससे हादसा होने की आशंका बनी रहती है। नागपुर-उमरेड हाईवे पर लग जाती है वाहनों की कतार : लोगों ने बताया कि मार्ग के पास ही नागपुर-उमरेड मार्ग पर वाहनों की कतारें दिन-रात लगी रहती हैं। चौराहे के दोनों तरफ व्यवसायियों ने अतिक्रमण कर रखा है। इससे वाहन चालकों और राहगीरों के लिए मार्ग पर चलना मुश्किल हो गया है। चौराहे के सिग्नल शुरू करने और यहां यातायात पुलिस कर्मी तैनात करने की मांग संबंधित विभाग से नागरिकों ने की है।