दैनिक भास्कर हिंदी: फडणवीस बोले - मुझे जलयुक्त शिवार के कामों की एसीबी जांच से कोई अड़चन नहीं

July 22nd, 2021

डिजिटल डेस्क, मुंबई। विधानसभा में विपक्ष के नेता देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि मुझे राज्य सरकार के पूर्व की भाजपा सरकार के जलयुक्त शिवार योजना के तहत हुए 950 कामों की भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) से जांच कराने के फैसले से कोई अड़चन नहीं है। गुरुवार को पत्रकारों से बातचीत में फडणवीस ने कहा कि पूर्व आईएएस अधिकारी विजय कुमार समिति ने सरकार को लगभग 950 कामों की एसीबी से जांच कराने की सिफारिश की है। भाजपा सरकार में जलयुक्त शिवार योजना के तहत 6.50 लाख काम हुए थे। जिसमें से 950 कामों की खुली जांच की सिफारिश की गई है। मैंने मुख्यमंत्री रहते हुए सदन में 650 कामों की शिकायत पर जांच के आदेश दिए थे। अब लगभग और 300 कामों की जांच होगी। फडणवीस ने कहा कि मानकों के अनुसार 6.50 लाख कामों में 950 कामों की जांच कोई बड़ी बात नहीं है। फिर भी मैं इस विचार का हूं कि कामों में कोई गलती नहीं होनी चाहिए।

फडणवीस ने कहा कि जलयुक्त शिवार योजना के कामों का अधिकार जिलाधिकारी को दिए गए थे। यदि सरकार को लगता है कि कामों में गड़बड़ी हुई है, तो उसकी जांच कराना चाहिए। जबकि प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता सचिन सावंत ने कहा कि भारत के नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक (कैग) ने जलयुक्त शिवार के 1128 कामों की अनियमितता को लेकर सवाल खड़े किए थे। अब विजय कुमार समिति ने भी एसीबी जांच की सिफारिश की है। सरकार एसीबी जांच कराके जलयुक्त शिवार योजना में हुए भ्रष्टाचार की तह तक जाना चाहिए। इससे पहले राज्य मंत्रिमंडल ने पिछले साल 14 अक्टूबर को जलयुक्त के कामों की खुली जांच का फैसला लिया था। इससे बाद सरकार ने पूर्व आईएएस अधिकारी विजय कुमार की अध्यक्षता में समिति का गठन किया था।

दो टीका लगवा चुके लोगों को प्रतिबंध से छूट दे सरकार- पाटील
 
उधर प्रदेश भाजपा अध्यक्ष चंद्रकांत पाटील ने राज्य सकार से कोरोना टीके की दो डोज लगवा चुके लोगों को प्रतिबंधों से छूट देने की मांग की है। पुणे में गुरुवार को पाटील ने सवाल पूछते हुए कहा कि कोरोना के डर से अनिश्चित समय के लिए लोगों को बंद रखेंगे क्या? उन्होंने कहा कि सरकार को कोरोना टीके की दोनों खुराक लेने वालों क व्यवहार करने की अनुमति देनी चाहिए। पाटील ने कहा कि उपमुख्यमंत्री अजित पवार और स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने कहा है कि टीकाकरण पूरा करवाने वाले लोगों को गतिविधियां शुरू करने के लिए छूट मिलनी चाहिए। हम तो काफी पहले से यह मांग करते आ रहे हैं। पाटील ने कहा कि टीके की दो खुराक लेने वालों को मास्क का उपयोग करने, बार-बार हाथ धोने,  सामाजिक दूरी के नियमों का पालन करके काम शुरू करने की अनुमति देनी चाहिए। सरकार आखिर कब तक लोगों का जनजीवन बंद रखेगी। दूसरी ओर मनसे अध्यक्ष राज ठाकरे ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को पत्र लिखकर दो टीका लगा चुके लोगों को लोकल ट्रेनों में सफर के लिए अनुमति देने की मांग की है। राज ने कहा कि मुंबई वासियों की सहन क्षमता अब खत्म हो चुकी है। सरकार टीका लगवा चुके लोगों को लोकल ट्रेन में सफर की अनुमति दे नहीं तो मनसे आंदोलन करेगी। 
 

खबरें और भी हैं...