दैनिक भास्कर हिंदी: फडणवीस बोले मुस्लिम आरक्षण पर सामने आई शिवसेना की दोहरी भूमिका

March 15th, 2020

डिजिटल डेस्क, मुंबई। बजट सत्र खत्म होने के बाद विधानसभा में विपक्ष के नेता देवेंद्र फडणवीस ने सरकार को किसी भी तरह का ठोस निर्णय ले पाने में पूरी तरह असफल बताया। पत्रकारों से बातचीत के दौरान फडणवीस ने कहा कि पूरे सत्र में सरकार की ओर से हवाहवाई जवाब और राजनीतिक भाषणों के अलावा कुछ देखने को नहीं मिला। उन्होंने आरोप लगाया कि सत्र के दौरान शिवसेना की दोहरी भूमिका सामने आ गई। वह सदन के भीतर मुस्लिम आरक्षण का समर्थन करती नजर आती है लेकिन बाहर इसका विरोध करती है। उन्होंने उद्धव ठाकरे पर निशाना साधते हुए कहा कि शरद पवार, सोनिया गांधी और राहुल गांधी उनके मार्गदर्शक हैं।  

 बजट सत्र के सत्रावसान पर बोले विपक्ष के नेता

फडणवीस ने कहा कि बेमौसम बरसात की मार झेलने वाले अन्न उत्पादक किसानों को 25 हजार प्रतिहेक्टेयर और फलोत्पादक किसानों को 50 हजार रूपए प्रति हेक्टेयर की मदद देने का वादा किया था लेकिन सत्र बीत गया और किसान मदद का इंतजार करते रह गए। उन्हें एक रूपए की भी मदद नहीं मिली। फडणवीस ने संपूर्ण कर्जमाफी के सरकार के दावे को भी कोरा झूठ बताया। उन्होंने कहा कि गांव के 25 फीसदी से ज्यादा किसानों के कर्ज माफी नहीं हुए हैं। फडणवीस ने कहा कि मंत्री मनमानी घोषणाएं करते हैं लेकिन उस पर कोई कार्रवाई नहीं होती। मुस्लिम आरक्षण, 100 यूनिट मुफ्त बिजली और ओबीसी छात्रवृत्ति 100 फीसदी करने से जुड़ी घोषणाएं इसी का उदाहरण है। सरकार ने हमारे कामों को अपना बताकर 100 दिन की उपलब्धि गिनाने की कोशिश की है। 

लंदन में बाबा साहेब आंबेडकर स्मारक का रास्ता साफ 

उन्होंने कहा कि बाबासाहेब आंबेडकर के लंदन में स्थित घर को संग्रहालय बनाने से जुड़ी अड़चन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सक्रियता के चलते दूर कर ली गई है। विधान परिषद में विपक्ष के नेता प्रवीण दरेकर ने कहा कि सरकार लोगों को राहत देने से जुड़ी कोई घोषणा नहीं कर पाई। किसानों को राहत देने में सरकार पूरी तरह असफल रही है। वरिष्ठ भाजपा नेता सुधीर मुनगंटीवार ने कहा कि सरकार महिला अत्याचार को लेकर कानून नहीं बना पाई यह उसकी असफलता है।  
 

खबरें और भी हैं...