दैनिक भास्कर हिंदी: लोकल ट्रेन में सफर के लिए बना लिया फर्जी पास, जब धराया तो हुआ ये खुलासा

August 17th, 2020

डिजिटल डेस्क, मुंबई। लोकल ट्रेन में सफर के लिए फर्जी पास बनाने वाले एक 33 वर्षीय आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। बता दें कि महानगर में लोकल रेल सेवाएं तो शुरू कर दी गईं हैं, लेकिन फिलहाल इसका इस्तेमाल सिर्फ अत्याआवश्यक सेवाओं से जुड़े लोग ही कर सकते हैं। पकड़ा गए आरोपी की जूते की दुकान है, जबकि उसने जो नकली पहचान पत्र बनाया था, वह स्वास्थ्य कर्मचारी का था। गिरफ्तार आरोपी का नाम जलालुद्दीन अंसारी है। अंसारी एंटॉप हिल इलाके में स्थित झुग्गी बस्ती में रहता है। उसे वडाला स्टेशन पर लोकल ट्रेन से उतरने के बाद पकड़ा गया। शनिवार शाम साढ़े चार बजे के करीब प्लेटफॉर्म पर उतरे अंसारी से टिकट निरीक्षक ने टिकट और यात्रा पास दिखाने को कहा तो उसने पास निकलाकर दिखाया। लेकिन पास देखकर टिकट निरीक्षक को शक हो गया। उसने सतर्कता से जांच की तो इस बात की पुष्टि हुई कि मुंबई महानगर पालिका के स्वास्थ्य विभाग के नाम पर बना पास फर्जी था। इसके बाद मामले की जानकारी रेलवे पुलिस को दी गई। पुलिस ने कड़ाई से पूछताछ की तो अंसारी ने फर्जी पहचान पत्र बनाने की बात स्वीकार की जिसके बाद उसे गिरफ्तार कर लिया गया।

अब तक 47 हजार से ज्यादा पर केस

मुंबई पुलिस लॉकडाउन के उल्लंघन के आरोप में अब तक धारा 188 के तहत कुल 47160 आरोपियों के खिलाफ 20388 मामले दर्ज कर चुकी है। 20 मार्च से शुरू हुआ कार्रवाई का सिलसिला करीब 5 महीनों से लगातार जारी है। रविवार को भी लॉकडाउन के उल्लंघन के आरोप में 276 आरोपियों के खिलाफ 41 मामले दर्ज किए गए। इन मामलों में अब तक 20975 आरोपी गिरफ्तार किए जा चुके हैं जबकि 8070 फरार हैं। 18115 आरोपियों को नोटिस देकर छोड़ दिया गया है।  

    
    
 

खबरें और भी हैं...