• Dainik Bhaskar Hindi
  • City
  • Farmer father son, facing financial crisis, hanged himself to death - it happened at night, both of them said

दैनिक भास्कर हिंदी: आर्थिक तंगी से जूझ रहे किसान पिता पुत्र ने फांसी लगाकर जान दी - रात में हुई थी दोनों में कहा सुनी

January 2nd, 2021

डिजिटल डेस्क जबलपुर । सिहोरा तहसील मुख्यालय से 15 किमी दूर मझगवां क्षेत्र के फनवानी गांव में आज शनिवार प्रात: एक किसान पिता पुत्र ने फांसी  लगाकर आत्महत्या कर ली । अपनी जान दे चुके किसान की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं थी और शुक्रवार की रात पैसे खर्च करने कह बात को लेकर पिता पुत्र में कहासुनी हुई। यहा कहा सुनी ही दोनों की मौत का कारण बन गई । आज सुबह नौ बजे पहले अपने घर से इकलौता बेटा निकला फिर पिता दोनों ने आम के पेड़ से लटककर फांसी लगा ली। दोनों का शव 35 चंद कदम के अंतराल में दो पेड़ों से लटकता देख ग्राम कोटवार ने पुलिस को सूचना दी थी । पुलिस मामला दर्ज कर जांच कर रही है।
पुलिस सूत्रों द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार फनवानी गांव निवासी चतुर्भुज पटेल (53) और उसका इकलौता बेटा सरमन पटेल (28) आज सुबह नौ बजे 20 मिनट के अंतराल पर घर से निकले थे । इसके बाद दोनों के शव गांव के बाहरी छोर पर उनके ही खेत में लगे दो आम के पेड़ से लटकती मिले। 
चतुर्भुज पटेल बेटी अर्चना की शादी पहले ही हो चुकी थी इकलौता बेटा सरमन पटेल, पत्नी तोतीबाई घर में थे। इस किसान के पास थोड़ी सी जमीन थी और वह जीविकोपार्जन के लिए  सिकमी पर खेत लेकर खेती करते थे। किसान का परिवार आर्थिक तंगी से गुजर रहा है।  सिकमी के खेत पर धान लगाया था इसी की उपजी धान बेची थी जिससे  कुछ पैसे घरआए थे। किसान के बेटे ने इसमें कुछ पैसे खर्च कर दिए, इसी बात को लेकर पिता-पुत्र में रात में कहासुनी हुई थी। दोनों ने गुस्से के चलते रात में खाना तक नहीं खाया था। बेटा व पति ने नहीं खाया, तो तोतीबाई भी भूखे पेट ही सो गई थी। सुबह नौ बजे पहले सरमन पटेल घर से निकला। वह गांव के बाहरी छोर स्थित खेत पर गया किसान के जानवर भी वही बांधते थे। मवेशी बांधने की इसी रस्सी को आम के पेड़ से फंदा बनाकर किसान का बेटा सरमन फांसी पर लटक गया। करीब 20 मिनट बाद पिता चतुर्भुज पटेल घर से निकला उसने अपने इकलौते बेटे को फंदे से लटका देखा तो बदहवास हो गया और उसने भी फांसी लगाकर मौत को गले लगा लिया ।

खबरें और भी हैं...