दैनिक भास्कर हिंदी: जंगली सूकरों के आतंक से किसान परेशान, खेतों में घुसकर फसल कर रहे चौपट

September 22nd, 2019

डिजिटल डेस्क शहडोल। जंगली इलाके से लगे जिले के अनेक ग्रामीण क्षेत्रों के किसान जंगली सूकरों से परेशान हैं। खेतों व बाड़ी में घुसकर फसलों को चौपट कर रहे हैं। जिला मुख्यालय से दूर मिठौरी व इससे लगे अन्य गांव में जंगली सूकरों का आतंक बढ़ा है, जिससे किसानों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। जिला मुख्यालय से करीब 25 किलोमीटर दूर मिठौरी गांव और वहीं के जंगलों से सटे एक दो गांव हैं। जहां जंगली सूकरों का आतंक है, जो आये दिन खेतों में घुसकर धान व मक्के की फसल को नुकसान पहुंचा रहे हैं। किसानों ने प्रशासन से गुहार लगाई कि इनके प्रवेश पर रोक लगाने के साथ नुकसानी का मुआवजा दिया जाए।
हर दिन कर रहे फसलों को बर्बाद-
मिठौरी गांव के किसान दिलीप द्विवेदी ने बताया कि उन्होंने इस साल लगभग डेढ़ एकड़ जमीन में मक्के की खेती इस की है, लेकिन जंगली सूकर हर दिन उनके फसलों को बर्बाद कर रहे हैं। उनके गांव के 95 प्रतिशत किसान खेती करते हैं और इस एरिया में कई एकड़ जमीन में मक्के की खेती होती है। पिछले कुछ साल से यहां इनका आतंक बढ़ा है। फसलों को नष्ट करते हैं। किसान नीरज द्विवेदी ने बताया कि उन्होंने अभी अभी खेती करना शुरू किया है लेकिन इसी तरह से अगर किसान बेबस रहेगा और फसलों को नुकसान होगा तो निराशा तो होगी।
इनका कहना है
जानकारी में बात आई है। जल्द ही इसे दिखवाते हैं। अगर किसानों का नुकसान हुआ है तो सर्वे कराकर राहत राशि दिलवाएंगे। वन विभाग को भी जानकारी देंगे।
धर्मेंद्र मिश्रा, एसडीएम सोहागपुर