दैनिक भास्कर हिंदी: फरवरी के आखिर तक पटरी पर दौड़ने लगेगी नागपुर मेट्रो, पुणे मेट्रो परियोजना के लिए फ्रांस की बैंक देगी 2000 करोड़

January 28th, 2019

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। नागपुर के लोगों का मेट्रो से सफर करने का इंतजार जल्द ही समाप्त होने वाला है। खापरी स्टेशन से बर्डी तक मेट्रो रेल जल्द ही दौड़ने लगेगी। महाराष्ट्र मेट्रो कॉर्पोरेशन लिमिटेड के प्रबंध निदेशक ब्रिजेश दीक्षित के अनुसार इस 13 किलोमीटर लाइन के पहले फेस का काम पूरा हो चुका है और फरवरी के अंत तक या मार्च के पहले सप्ताह में इस लाइन पर मेट्रो का परिचालन शुरु हो जाएगा। महा मेट्रो प्रबंध निदेशक दीक्षित ने सोमवार को यहां महाराष्ट्र सदन में पत्रकारों से बातचीत में बताया कि नागपुर मेट्रो की कुल लंबाई करीब 38 किलोमीटर है। पहले फेस में खापरी स्टेशन (मिहान) से एयरपोर्ट होते हुए बर्डी तक की लाइन शुरु कराने के लिए मंजूरी मिल गई है। इस रुट पर 8 मेट्रो स्टेशन शुरु हो जायेंगे। संभवत: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के हाथों इसका शुभारंभ किया जाएगा। उन्होंने बताया कि दूसरे फेस का 75 फीसदी से अधिक काम पूरा हो गया है। पहले फेस की लाइन में शहर का काफी हिस्सा कवर नही हो रहा है। इसलिए हिंगना से सुभाष नगर तक 6 किलोमीटर के दूसरे फेस को राज्य मंत्रिमंडल से मंजूरी मिलने के बाद प्रस्ताव को केन्द्र सरकार के पास भेजा गया है। उन्होने उम्मीद जताई की इसे केन्द्र से भी जल्द मंजूरी मिल जायेगी। जिसके बाद दूसरे चरण का भी काम शुरु हो जाएगा।

पुणे मेट्रो परियोजना के लिए एएफडी फ्रांस भारत सरकार को 2 हजार करोड़ रुपये विकास सहायता ऋण देगी। सोमवार को दोनों देशों के बीच इस संबंध में फ्रांस के भारत में राजदूत अलेक्झंडर झिजर और केन्द्रीय वित्त विभाग के अतिरिक्त सचिव डॉ सी एस मोहपात्रा ने समझौतों पर हस्ताक्षर किए। इस संबंध में मीडिया को जानकारी देते हुए महा मेट्रो प्रबंध निदेशक दीक्षित ने बताया कि इसके बाद अगले 15 दिन में युरोपियन इनव्हेसमेंट बैंके के साथ भी 4 हजार करोड़ विकास सहायता ऋण के लिए समझौते पर हस्ताक्षर किए जाएंगे। दीक्षित ने बताया कि पुणे मेट्रो का फिलहाल 27 फीसदी काम पूरा हो चुका है। ऋण राशि से मेट्रो के काम को और गति मिलेगी। उन्होने दावा किया कि पहले फेस में 16 किलोमीटर की पहली लाइन वर्ष 2020 पूरी हो जायेगी और 2021 तक 15 किलोमीटर की दूसरी लाइन का काम पूरा कराने का लक्ष्य रखा है। उन्होने बताया कि पुणे मेट्रो परियोजना में कुल 11400 करोड़ रुपये खर्च आयेगा। इसके लिए पिपरी चिंचवड महापालिका, पुणे महापालिका, राज्य सरकार और केन्द्र सरकार वित्तिय सहायता उपलब्ध करा रही है। इसके अतिरिक्त 6 हजार करोड़ रुपये ऋण लिया जा रहा है। उन्होने बताया कि पुणे की ऐतिहासिक एवं सांस्कृतिक विरासत को ध्यान में रखते हुए मेट्रो स्टेशनों को उस ढंग से बनाया जा रहा है।
 

खबरें और भी हैं...