comScore

शिर्डी-सिद्धिविनायक के चढ़ावे के नाम पर ठगी करने वाला गिरोह गिरफ्तार 

शिर्डी-सिद्धिविनायक के चढ़ावे के नाम पर ठगी करने वाला गिरोह गिरफ्तार 

डिजिटल डेस्क, मुंबई। शिर्डी और सिद्धिविनायक मंदिरों में भक्तों द्वारा चढ़ाए गए सोने के बिस्कट कम दाम में बेंचने का झांसा देकर लोगों से ठगी करने वाले एक गिरोह का ठाणे पुलिस ने भंडाफोड़ किया है। आरोप लोगों का भरोसा जीतने के बाद उन्हें पैसे लेकर नकली सोने के बिस्किट पकड़ा देते थे। मामले में चार आरोपियों को गिरफ्तार किया गया साथ ही उनके पास से नकली सिक्के, नकली नोट और सोने के बिस्किट भी बरामद किए गए हैं। आरोपियों के खिलाफ कुर्ला में रहने वाले निशाद शेख नाम के एक चमड़े के व्यापारी ने शिकायत दर्ज कराई थी। 

मध्य प्रदेश के सिमकार्ड का करते थे इस्तेमाल 

शिल डायघर पुलिस स्टेशन को दी गई अपनी शिकायत में शेख ने बताया था कि आरोपियों ने उन्हें कम कीमत पर चमड़ा देने का वादा किया था। उनसे 2 लाख रुपए लेने के बाद आरोपी उन्हें अपना गोदाम दिखाने के बहाने साथ ले गए और रास्ते में झांसा देकर फरार हो गए। छानबीन में जुटी पुलिस के सामने परेशानी यह थी कि आरोपी बार-बार अपना सिमकार्ड और मोबाइल बदल रहे थे। लेकिन सीनियर इंस्पेक्टर चंद्रकांत जाधव की अगुआई में पुलिस भीमराज मालजी, प्रवीण वर्मा, मल्लेश डिंगी, चवडप्पा कालोर नाम के आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। आरोपियों ने पूछताछ में हैरान करने वाला खुलासा किया। उन्होंने बताया कि सस्ते सोने, नकली नोट और नकली पुलिसवाला बनकर छापेमारी के सहारे वे अब तक लोगों को एक करोड़ रुपए से ज्यादा का चूना लगा चुके हैं। उन्होंने ठगी की आठ वारदातों में शामिल होने की बात स्वीकार की है लेकिन पुलिस को शक है कि उनकी संख्या ज्यादा हो सकती है। ठगी के लिए आरोपियों ने असम और मध्यप्रदेश जैसे राज्यों से लिए गए 253 सिमकार्डों का इस्तेमाल किया।
 

कमेंट करें
dg2Ve